Saturday, April 11, 2009

चुनावी मंडाण

लोकसभा चुनाव की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है. उत्तराखंड़ में अंतिम चरण में 13 मई को वोट पडऩे हैं. 13 मई अभी दूर सही पर चुनावी मंडाण में रंगत अभी से नजर आने लगी है. पाला बदल और रूठने मनाने का खेल शुरू हो चुका है. चुनाव आयोग की डौंर थाली जैस जैसे जोर पकड़ेगी, मंडाण में भी सस्पेंस बढ़ता जाएगा. अपने छोटे से सूबे के हिस्से में भले ही पांच सीटें आई हों, पर स्थानीय राजनीति के लिहाज से इन पांच सीटों का लिहाज कम नहीं है. पौड़ी से सतपाल महाराज क्या लगातार चौथी हार झोल पाएंगे, कांग्रेस के हेवीवेट हरीश रावत की हरिद्वार तीर्थ यात्रा (इस बार रावत हरिद्वार से किस्मत आजमा रहे हैं सफल हो पाएगी. और बचदा की नैनीताल शिफ्टिंग कितनी फायदेमंद रहेगी. इन सब का जवाब 16 मई दोपहर तक मिलने की उम्मीद है. सबसे बड़ा सवाल किअगर फौजी दादा अगर पीएम इन वेटिंग के लिए उम्मीदों के अनुरूप सांसद नहीं जुटा पाए तो फिर वो खुद कितने सुरक्षित रहेंगे? इन सब सवालों के 16 मई का इंतजार. फिलहाल हम और आप मंडाण के मजे लूटते हैं . आपका ब्लॉग पहाड़ 1 लोकसभा चुनाव पर खास कवरेज करने जा रहा है. उम्मीद है आपका साथ हमें पहले की तरह मिलेगा

No comments:

Post a Comment