Tuesday, 17 March 2009

मृतकों के नाम किया भुगतान बना गले की हड्डी

Mar 17, नई टिहरी (टिहरी गढ़वाल)। चंबा प्रखंड के जड़धार गांव में लघु सिंचाई विभाग से भारत निर्माण योजना के नाम पर मृतकों के नाम किए गए भुगतान का मामला विभाग के गले की हड्डी बन गया है। सूचना आयोग ने 23 मार्च को गांव में आम सभा बुलाकर विभाग को सभी कागज दिखाने के निर्देश दिए है। गौरतलब है कि जड़धार गांव में लधु सिंचाई विभाग ने अपनी कारगुजारियों से तीन मृतकों भगवान सिंह, बेताल सिंह व अर्फी सिंह के नाम भुगतान दर्शा दिया। इतना ही नहीं देहरादून के अंग्रेजी माध्यम स्कूल में पढ़ने वाले छात्र को मिस्त्री बताकर व कभी खच्चर न पालने वाले को खच्चर ढुलान का भुगतान भी दर्शाया हुआ है। सामाजिक कार्यकर्ता विजय जड़धारी ने सूचना अधिकार अधिनियम के तहत इस मामले में सूचना मांगी तो विभाग ने टालमटोल रवैया अपनाया। अपीलीय अधिकारी से सूचना न मिलने पर श्री जड़धारी ने सूचना आयोग में शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद भी विभाग ने आधी-अधूरी जानकारी दी। अब इस मामले में विभाग पूरी तरह फंस गया है। सूचना आयोग ने विभाग को पूरे कागजों के साथ 23 मार्च को जड़धार गांव पहुंचने के निर्देश दिए है। इस बात की पुष्टि करते हुए मुख्य सूचना आयुक्त डा. आरएस टोलिया ने बताया कि इस दिन गांव में खुली बैठक होगी। बहरहाल, ग्रामीणों का कहना है कि पूरे मामले में पंद्रह लाख रूपए से भी अधिक का घपला हुआ है। इस मामले में विभाग पूरी तरह फंसा हुआ नजर आ रहा है।

No comments:

Post a comment