Tuesday, 16 October 2018

ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना: नजर आने लगा न्यू ऋषिकेश रेलवे स्टेशन

ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना: नजर आने लगा न्यू ऋषिकेश रेलवे स्टेशन
देहरादून : तीर्थ नगरी में भारतीय रेलवे की महत्वकांक्षी ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना का काम तेजी से चल रहा है। ऋषिकेश में इस परियोजना का पहला रेलवे स्टेशन तैयार किया जा रहा है, जिसे न्यू ऋषिकेश नाम दिया गया है। न्यू ऋषिकेश रेलवे स्टेशन पर इस नाम का बोर्ड भी लगा दिया गया है।

125 किलोमीटर लंबी ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना भारतीय रेलवे के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है। इस परियोजना में रेलवे लाइन 16 सुरंग और 16 रेल पुलों से होकर गुजरेगी। यहां तैयार की जा रही 16 सुरंगों में से पांच सुरंगें नौ किलोमीटर से भी अधिक लंबी है।
 इस रेल परियोजना से देश में अब तक की सबसे लंबी रेल सुरंग भी बनने जा रही है। जिसकी लंबाई 15 किलोमीटर 100 मीटर है। हालांकि अभी तक सुरंगों का काम शुरू नहीं हो पाया है। जबकि ऋषिकेश में वीरभद्र से न्यू ऋषिकेश रेलवे स्टेशन के लिए आने वाली रेल लाइन पर तेजी से काम चल रहा है।


यहां न्यू ऋषिकेश रेलवे स्टेशन का प्लेटफॉर्म और भवन तैयार किया जा रहा है। इसके अलावा बायपास मार्ग पर रेल अंडर ब्रिज, देहरादून मार्ग पर रेल ओवर ब्रिज के अलावा चंद्रभागा नदी रेल ब्रिज का कार्य प्रगति पर है। रेल विकास निगम के परियोजना प्रबंधन ओपी मालगुडी ने बताया कि इस परियोजना को 2024 में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि अन्य कार्यों के लिए टेंडर हो चुके हैं।

No comments:

Post a comment