Tuesday, 15 January 2019

चमोली जिले के स्यूणी मल्ली के ग्रामीण बने मांझी, खुद बना रहे गांव की सड़क


इस गांव के ग्रामीण बने मांझी, खुद बना रहे गांव की सड़क
चमोली जिले के गैरसैंण विकासखंड स्थित स्यूणी मल्ली के मांझी बीते छह दिन से श्रमदान कर आगरचट्टी-स्यूणीमल्ली (छह किमी) मोटर मार्ग के निर्माण में जुटे हुए हैं।
चमोली, । चमोली जिले के गैरसैंण विकासखंड स्थित स्यूणी मल्ली के मांझी बीते छह दिन से श्रमदान कर आगरचट्टी-स्यूणीमल्ली (छह किमी) मोटर मार्ग के निर्माण में जुटे हुए हैं। अब तक वे सिविल भूमि में 55 मीटर से अधिक सड़क तैयार कर चुके हैं।
ग्रामीणों को आशंका है कि सप्ताहभर के भीतर वनभूमि में सड़क का निर्माण कार्य प्रारंभ होने पर वन विभाग इसमें अड़चन डाल सकता है। क्योंकि, वन विभाग ने चेतावनी दी है कि वन क्षेत्र में अतिक्रमण बर्दाश्त नही होगा। हालांकि, ग्रामीणों ने ठान रखी है कि वे किसी भी दशा में निर्माण कार्य नहीं रोकेंगे और सड़क को मुकाम तक पहुंचाकर ही दम लेंगे।
वार्ड सभासद सुनिता नेगी की अगुआई में धर्मा देवी, जय सिंह, नंदी देवी, सोबन सिंह, महेंद्र सिंह, शांता देवी, जमन सिंह, भागा देवी आदि के अलावा गैरसैंण, मेहलचौरी, आगरचट्टी व समीपस्थ नगर व कस्बों में व्यवसाय एवं नौकरी करने वाले ग्रामीण भी श्रमदान करने स्यूणी मल्ली पहुंचे।
सड़क निर्माण संघर्ष समिति के अध्यक्ष जमन सिंह व ग्राम प्रधान लीला देवी ने बताया कि क्षेत्र के ग्रामीण बीते 22 साल से आगरचट्टी-स्यूणीमल्ली मोटर मार्ग के निर्माण को संघर्ष कर रहे हैं।
साभार-जागरण(जोध सिंह रावत)

No comments:

Post a comment