Sunday, September 17, 2017

उत्तराखंड के प्रदीप ने साइकिल से सफर का नया रिकॉर्ड बनाया

देहरादून ’-उत्तराखंड के प्रदीप राणा ने साइकिल से 116 दिन में अब तक 15,280 किमी का सफर तय कर लिया है। वे शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश के पालमपुर पहुंचे। जहां से नाहन, पांवटा होते हुए दून पहुंचेंगे। प्रदीप ने दावा किया है कि वह महाराष्ट्र के संतोष का विश्व रिकॉर्ड तोड़ चुके हैं। मूल रूप से बागेश्वर के गरुड़ गांव निवासी प्रदीप राणा ग्राफिक एरा विश्वविद्यालय में बीएससी आईटी के छात्र हैं। हिन्दुस्तान से बातचीत में प्रदीप ने बताया कि उन्होंने कुछ समय पहले ही साइकिल यात्र का विश्व रिकॉर्ड तोड़कर गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करने की ठानी थी।प्रदीप ने 23 मई को देहरादून से स्कॉल साइकिल पर यात्र की शुरुआत की। 116 दिन बाद वे शुक्रवार को पालमपुर पहुंचे। उन्होंने बताया कि पिछले साल महाराष्ट्र के संतोष ने 15, 222 किमी का सफर तय किया था। अब वे 15,280 किमी का सफर तय कर उनका रिकॉर्ड तोड़ चुके हैं। पालमपुर से दून पहुंचने के बाद गढ़वाल और कुमाऊं मंडल का भी साइकिल से ही दौरा करेंगे।
प्रदीप राणा।
दिन के सफर में चलाई 15,280 किलोमीटर साइकिल

प्रदीप औसतन 110 से 130 किमी तक साइकिल रोज चला रहे हैं। सुबह सात से नौ बजे तक साइकिल चलाते हैं और इसके बाद ब्रेकफास्ट करते हैं। दोपहर दो बजे तक लगातार साइकिल चलाने के बाद लंच करते हैं। शाम को अंधेरा होने से पहले वह सुरक्षित जगह पर पहुंचने की कोशिश करते हैं।
प्रदीप ने बताया कि उनका कार्यक्रम 5 से 6 महीने का है। इसलिए ऑफिशियल नियुक्त नहीं होता, लेकिन गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड की ओर से एक गाइडलाइन जारी होती है। इसके नियमों का पालन करना जरूरी होता है, जिसके आधार पर रिकॉर्ड की जांच की जाती है।
उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, असम, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मेघालय, सिक्किम, पश्चिम बंगाल, ओडिसा, तमिलनाडु, केरल, महाराष्ट्र, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, दादर नगर हवेली, गोवा, आंध्र प्रदेश, राजस्थान

1 comment: