Thursday, August 4, 2011

हजारों नम आंखों ने किया शहादत को सलाम Constable Last salute the martyrs

हल्द्वानी: कुपवाड़ा सेक्टर के गूगलधार इलाके में आतंकियों द्वारा किए गए विस्फोट में शहीद हुए हवलदार जयपाल सिंह की बुधवार को सैन्य सम्मान के साथ अंत्येष्टि कर दी गई।

आर्मी अफसरों के अलावा पुलिस, प्रशासनिक अफसरों और जनप्रतिनिधियों ने भी शहीद के शव पर पुष्पांजलि अर्पित की।
द्वाराहाट विकासखंड के असगोली निवासी जयपाल सिंह अधिकारी बीस कुमाऊं रेजीमेंट में हवलदार थे। वर्तमान में वह जम्मू के कुपवाड़ा सेक्टर में एलओसी के पास गूगलधार के दुर्गम इलाके में तैनात थे। 30 जुलाई की शाम सवा चार बजे आतंकियों ने तीन तरफ से घेराबंदी कर हमला कर दिया। जयपाल सिंह ने अपने सैनिकों के साथ आतंकवादियों का डटकर मुकाबला किया और उनके घुसपैठ के इरादे को नाकाम कर दिया। तीन तरफ से आतंकियों ने फायरिंग की और फिर ग्रेनेड से विस्फोट कर दिया, जिसमें हवलदार जयपाल सिंह अधिकारी समेत तीन जवान शहीद हो गए।
जम्मू में तैनात सूबेदार महेंद्र सिंह शहीद हवलदार जयपाल सिंह का शव लेकर मंगलवार देर रात यहां आर्मी कैंट पहंुचे थे। बुधवार की सुबह आठ बजे दस मिनट के लिए शव को शहीद हवलदार के हिम्मतपुर तल्ला स्थित आवास पर ले जाया गया। विस्फोट में शव क्षत-विक्षत हो चुका था, लिहाजा उसे ताबूत से बाहर नहीं निकाला गया। जब तक सूरज चांद रहेगा, जयपाल तेरा नाम रहेगा, जयपाल तेरा ये बलिदान, याद रखेगा हिंदुस्तान, भारत माता की जय, हवलदार जयपाल सिंह अमर रहे नारों के साथ देश के लिए प्राण न्यौछावर करने वाले जयपाल सिंह की शवयात्रा रानीबाग स्थित चित्रशिला घाट पर पहंुची। वहां सबसे पहले जम्मू के कमान अधिकारी कर्नल दीपक शर्मा का वीरों की गाथा नाम से संदेश स्टेशन हेड क्वार्टर कर्नल आरके भंडारी ने पढ़कर सुनाया। कर्नल राजा माझी, सीएमपी के कर्नल एनएम इरानी, मेजर एमके गुप्ता, द्वाराहाट के विधायक पुष्पेश त्रिपाठी, सिटी मजिस्ट्रेट प्रकाश चंद्र, अपर पुलिस अधीक्षक जेएस भंडारी समेत तमाम अफसरों ने पुष्पांजलि अर्पित की।
आर्मी गारद ने फायरिंग कर शहीद हवलदार को अंतिम सलामी दी। मृतक के भाई हाइकोर्ट में असिस्टेंट रजिस्ट्रार चंदन सिंह अधिकारी, लक्ष्मण सिंह, नंदन सिंह ने चिता को मुखाग्नि दी। इस मौके पर सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट कर्नल बंशीधर कांडपाल, मेजर जनरल सुरेंद्र साह, पूर्व सैनिक लीग के लेफ्टिनेंट कर्नल सीके चौधरी, लेफ्टिनेंट कर्नल केएस मेहता, कैप्टन टीएस सुयाल, कैप्टन एमएस बिष्ट, एडवोकेट गोविंद बिष्ट, ध्रुव पांडे, रमेश पलडिया, संदीप अधिकारी, कांग्रेस नेता हरीश कर्नाटक, भोलादत्त भट्ट, राजेंद्र फर्सवान, कमल भट्ट, नवीन पांडेय, हर्ष पांडे मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment