Tuesday, August 16, 2011

उत्तराखंड में बनेंगे चार नये जिले


उत्तराखंड में नए ज़िले
मुख्मंत्री निशंक ने चार नए ज़ले बनाए जाने की घोषणा की
अब 17 ज़िले
निशंक की इस घोषणा के बाद अब उत्तराखंड में नये जिलों की संख्या 13 से बढ़कर 17 हो जायेगी. नये जिलों को कोटद्वार को पौड़ी से काटकर, यमुनोत्री को उत्तरकाशी से, डीडीहाट को पिथौरागढ और रानीखेत को अल्मोडा से काटकर बनाया जायेगा.

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सोमवार को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राज्य में चार नये जिलों के गठन की घोषणा की.साथ ही उन्होंने भ्रष्टाचार के खिलाफ एक नया कानून लाने का आश्वासन भी दिया.
आजादी की 65वीं वषर्गांठ पर स्थानीय परेड ग्राउंड में सोमवार को तिरंगा फहराने के बाद अपने उद्बोधन में निशंक ने कहा कि राज्य में यमुनोत्री, कोटद्वार, डीडीहाट तथा रानीखेत नाम से चार नए जिले बनाये जायेंगे ताकि प्रशासन का कार्य बेहतर और अधिक सुचारू रूप से हो सके.
निशंक ने कहा कि प्रशासनिक चुस्ती के लिये छोटी प्रशासनिक इकाइयां अधिक बेहतर होती हैं इससे इलाके का विकास होता है तथा प्रशासन तक लोगों की पहुंच आसान होती है.उन्होंने कहा कि नये जिले बनाने का कार्य यहीं खत्म नहीं होगा. ज़रूरत पड़ने पर और नये जिलों का गठन किया जा सकता है.मुख्यमंत्री निशंक ने कहा कि उनकी सरकार राज्य में भ्रष्टाचार के खिलाफ एक नया कानून बनायेगी. इसके लिये जल्द ही विधान सभा में विधेयक पेश किया जायेगा.

निशंक ने इस अवसर पर स्वतंत्रता सेनानियों के पेंशन को वर्तमान 6000 रूपये बढाकर 11 हजार एक सौ रूपये करने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि राज्य के सभी लोगों का अटल स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत बीमा कराया जायेगा.

No comments:

Post a Comment