Tuesday, July 5, 2011

दुलर्भ आय के छात्रों को निशंक का तोहफा -सूबे के सभी राजकीय और निजी तकनीकी शिक्षण संस्थाओं फीस फ्री



राज्य में ट्यूशन फी वेवर स्कीम अनिवार्य रूप से लागू की गई है। इसके तहत प्रत्येक पाठ्यक्रम में स्वीकृत प्रवेश क्षमता की पांच फीसदी अतिरिक्त सीटें राज्य के स्थायी अभ्यर्थियों के लिए आरक्षित की गई हैं। इसका लाभ उन अभ्यर्थियों को मिलेगा, जिनकी पारिवारिक सालान आय 2.50 लाख से कम है।
राज्य कोटे की बीटेक और डिप्लोमा कोर्स की सीटों में दाखिले के इच्छुक छात्र-छात्राओं की बल्ले-बल्ले होगी। सरकार ने सूबे के स्थायी अभ्यर्थियों के लिए प्रत्येक कोर्स में निर्धारित से अतिरिक्त पांच फीसदी सीटें बढ़ाई हैं। दाखिले को आनलाइन काउंसिलिंग दो चरणों में होगी। पहला चरण 11 से 17 जुलाई और दूसरा चरण 28 से 31 जुलाई तक चलेगा।

राज्य के तकनीकी शिक्षण संस्थानों में बीटेक और डिप्लोमा कोर्स में दाखिले आनलाइन काउंसिलिंग से ही होंगे। काउंसिलिंग को तकनीकी रूप से ज्यादा सुव्यवस्थित किया जाएगा। तकनीकी शिक्षा अपर सचिव (स्वतंत्र प्रभार) आरके सुधांशु ने बताया कि सूबे के सभी राजकीय और निजी तकनीकी शिक्षण संस्थाओं में ट्यूशन फी वेवर स्कीम अनिवार्य रूप से लागू की गई है। इसके तहत प्रत्येक पाठ्यक्रम में स्वीकृत प्रवेश क्षमता की पांच फीसदी अतिरिक्त सीटें राज्य के स्थायी अभ्यर्थियों के लिए आरक्षित की गई हैं। इसका लाभ उन अभ्यर्थियों को मिलेगा, जिनकी पारिवारिक सालान आय 2.50 लाख से कम है। इस संबंध में जानकारी तकनीकी विवि की वेबसाइट पर उपलब्ध होगी।

No comments:

Post a Comment