Wednesday, June 8, 2011

पहाड़ पर दौडेगी हाइटेक बस

अब पहाड़ी रूटों का सफर वाकई सुहाना होने वाला है। पहली बार पर्वतीय मार्गों पर डीलक्स बसें फर्राटा भरेंगी। ऐसी 20 बसों को आइएसबीटी से विभिन्न रूटों के लिए रवाना कर किया गया। इनका किराया सामान्य श्रेणी की बसों से महज 25 फीसदी अधिक रहेगा। मंगलवार को परिवहन मंत्री बंशीधर भगत ने आइएसबीटी से 10 पर्वतीय जिलों के लिए 20 हाइटेक बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने कहा कि पहाड़ी जिलों के लोग लंबे से हाइटेक बस सेवा की मांग करते रहे हैं। ये बसें जिला मुख्यालयों को सीधा राजधानी से जोड़ेंगी। परिवहन मंत्री ने उम्मीद जताई कि डीलक्स बसों से यात्रियों को काफी सुविधा मिलेगी। जल्द पहाड़ के लिए 80 सामान्य बसें भी चलाई जाएंगी। परिवहन निगम के महाप्रबंधक (तकनीकी) दीपक जैन ने बताया कि हर जिले में दो डीलक्स बसें चलाई जाएंगी। इनमें सर्दियों में हीटिंग सिस्टम की भी व्यवस्था रहेगी। इनका किराया भी खास अधिक नहीं है। यात्रियों को हाइटेक बसों में सफर के लिए सामान्य श्रेणी की बसों के मुकाबले केवल 25 फीसदी अधिक किराया देना होगा। उन्होंने बताया कि मैदानी क्षेत्रों के लिए जो 80 नई बसें आनी थीं, उसमें से 25 परिवहन निगम के बेड़े में शामिल हो गई हैं। इस अवसर पर परिवहन निगम के अध्यक्ष एसके मुट्टू, भाजपा महानगर अध्यक्ष पुनीत मित्तल आदि उपस्थित थे। यहां चलेंगी दो-दो डीलक्स बसें उत्तरकाशी, पौड़ी, गोपेश्वर, नई टिहरी, अल्मोड़ा, बागेश्वर, रुद्रप्रयाग, चंपावत, पिथौरागढ़।

No comments:

Post a Comment