Saturday, May 21, 2011

नियुक्ति के इंतजार में 490 चयनित अनुदेशक

देहरादून -राज्य के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों के लिए बीते वर्ष आयोजित अनुदेशक भर्ती परीक्षा व साक्षात्कार में चुने गए अनुदेशक नौ माह से नियुक्ति की बाट जोह रहे हैं। तकनीकी शिक्षा विभाग की उदासीनता से आक्रोशित चयनित अनुदेशकों ने गुरुवार से निरंजनपुर स्थित आइटीआइ में अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि जल्द प्रक्रिया शुरू नहीं हुई तो वह उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे। गुरुवार को दर्जनों चयनित अनुदेशकों ने निरंजनपुर स्थित आइटीआइ परिसर में धरना शुरू किया। इस मौके पर चयनित अनुदेशक राजकुमार ने बताया कि राज्य के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में अनुदेशकों के 490 रिक्त पदों के लिए प्रशिक्षण एवं सेवायोजन निदेशालय हल्द्वानी ने बीते वर्ष अगस्त में परीक्षा कराई थी। 27 अगस्त को परिणाम भी घोषित कर दिया गया। इस बीच कुछ आवेदक उच्च न्यायालय चले गए और नियुक्ति पर रोक लग गई। उच्च न्यायालय ने गत 11 मार्च 2011 को नियुक्ति पर लगी रोक हटाने का आदेश जारी किया। इसके बाद निदेशक प्रशिक्षण एवं तकनीकी शिक्षा ने एक माह में नियुक्ति के निर्देश विभाग को दिए, लेकिन इसके बावजूद अभी तक नियुक्तियां शुरू नहीं हुई। आर्थिक व मानसिक परेशानी से जूझ रहे चयनित अनुदेशक नियुक्ति के लिए विभाग के चक्कर काट रहे हैं। चयनित अनुदेशक प्रदीप कुमार ने बताया कि इस मामले में दो सप्ताह पूर्व मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित कर 17 मई तक नियुक्ति शुरू करने की मांग की गई है। पर अभी तक कोई फैसला नहीं लिया गया, जिस कारण उन्हें मजबूरन दोबारा धरना शुरू करना पड़ा। जल्द प्रक्रिया शुरू नहीं हुई तो उग्र आंदोलन को बाध्य होना पड़ेगा।

No comments:

Post a Comment