Saturday, December 31, 2011

विशिष्ट बीटीसी भर्ती पर रहेगी रोक

नैनीताल, हाइकोर्ट की खंडपीठ ने विशिष्ट बीटीसी भर्ती को लेकर जारी विज्ञप्ति के क्रियान्वयन पर रोक लगाने संबंधी एकल पीठ के आदेश पर रोक लगाने से इन्कार कर दिया है। कोर्ट के इस निर्णय के बाद फिलहाल विशिष्ट बीटीसी के पदों की भर्ती प्रक्रिया पर रोक जारी रहेगी।

*..!!आप सभी मित्रों को नव-वर्ष 2012 की सपरिवार अग्रिम शुभकामनाएं..!!

सब पार्टी का सपना गंगोत्री हो अपना-

गंगोत्री का जो सरताज, उत्तराखंड मे उसका राज
गंगोत्री से अब तो जो भी प्रत्याशी जीता है उत्तराखंड मे उसकी पार्टी की ही सरकार बनी है।
१९१९-भाजपा के ज्ञानचंद्र ,१९९३-सपा-के बफियालाल,१९९६ के -भाजपा- ज्ञानचंद,२००२-काग्रेस के विजयपाल२००७-भाजपा के गोपाल सिंह इस सीट से विजय हुए तो राज्य मे सरकार बनाने का सेहरा भी इन्ही पार्टी के सर सजा ।
1960 में टिहरी से अलग कर उत्तराकाशी जिला बना तो यह तब से यह मिथक बना है ।

Tuesday, December 27, 2011

विशिष्ट बीटीसी के पदों पर भर्ती प्रक्रिया पर रोक

नैनीताल : उच्च न्यायालय ने विशिष्ट बीटीसी के पदों पर भर्ती संबंधी विज्ञप्ति के क्रियान्वयन पर फिलहाल रोक लगा दी है।
बीटीसी प्रशिक्षु अनिल पांडे व अन्य द्वारा हाईकोर्ट में दायर याचिका में बताया गया कि शिक्षक पात्रता परीक्षा के प्रश्न पत्र में कई सवाल गलत थे। इस मामले में हाईकोर्ट में कई याचिकाएं विचाराधीन हैं। याचिकाकर्ता का यह भी कहना था कि याचिकाओं के विचाराधीन रहने के दौरान सरकार द्वारा नियुक्ति संबंधी विज्ञप्ति जारी की गई है। यह विज्ञप्ति जिला स्तर पर जारी की गई, जबकि सरकार द्वारा एक शासनादेश जारी कर बीटीसी को राज्य कैडर घोषित किया गया है।
याचिकाकर्ता का यह भी कहना था कि उत्तराखंड में प्राइमरी शिक्षकों की नियुक्ति संबंधी सेवा नियमावली नहीं बनी है। नेशनल टीचर्स ट्रेनिंग काउंसिल को शिक्षक पात्रता परीक्षा के माध्यम से नियुक्ति देने का अधिकार नहीं है। न्यायाधीश न्यायमूर्ति वीके बिष्ट की एकलपीठ ने याचिका पर सुनवाई के बाद विशिष्ट बीटीसी के पदों पर नियुक्ति संबंधी विज्ञप्ति के क्रियान्वयन पर रोक लगा दी।

Thursday, December 22, 2011

समूह ‘ग’ में लाने होंगे 35 से 45 फीसद अंक

लोक सेवा आयोग की तर्ज पर सीधी भर्ती के पदों के लिए न्यूनतम अंक किए अनिवार्य सामान्य व ओबीसी श्रेणी के लिए 45 व एससी व एसटी के लिए 35 प्रतिशत अंक जरूरी

Wednesday, December 21, 2011

समूह ग का प्रथम चरण पूरा नहीं, दूसरे की तैयारी शुरू

रुड़की : समूह ग के अंतर्गत दूसरे चरण में लिपिक, आशुलिपिक एवं लेखा संवर्ग के 1721 पदों पर सीधी भर्ती के लिए उत्तराखंड प्राविधिक शिक्षा परिषद रुड़की ने आवेदन जारी कर दिए हैं,

फिर खला नियुक्ति का पिटारा -लोक सेवा आयोग क्षेत्र के बाहर समूह 'ग' के (दितीय चरण )मे लिपिक ,आशुलिपिक एंव लेखा संवर्ग के 14क्षेत्र के बाहर समूह 'ग' के (दितीय चरण )मे लिपिक ,आशुलिपिक एंव लेखा संवर्ग के 1409 पदों पर सीधी भर्ती

लोक सेवा आयोग क्षेत्र के बाहर समूह 'ग' के (दितीय चरण )मे लिपिक ,आशुलिपिक एंव लेखा संवर्ग के 1409 पदों पर सीधी भर्ती चयन हेतु लिखित परीक्षा हेतु डाकघर से आवेदन 26 dec 11 से 15 feb 2012 तक प्राप्त किये जा सकते है , आवेदन भेजने की अंतिम तिथि 15 फरवरी 2011

Sunday, December 18, 2011

Uttarakhand Health and Family Welfare Society invite applications from highly motivated candidates in field of health for following posts under ...

बेरोजगारों के साथ फिर खिलवाड़

उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री मातवर सिंह कंडारी ने टीईटी मे राज्य की भौगोलिक परिस्थति को देखते हुए यहां के छात्रों को टीईटी मं 60 प्रतिशत की अनिवार्यता को 55 प्रतिशत अंक का भरोसा छात्रों को दिलाया था,लेकिन टीईटी मे 55 प्रतिशत अंक न करके बेरोजगार युवकों के साथ फिर खिलवाड़ किया है। देश के कई राज्य ने अपने भौगोलिक परिस्थति को देखते हुए टीईटी 55 प्रतिशत की है। क्योकि यह बीएड पास बेरोजगार छात्रों के लिए विशिष्ट बीटीसी के से शिक्षक बनने का अंतिम अवसर होगा । क्योकि फरवरी 2012 के बाद विशिष्ट बीटीसी स्वतं ही समाप्त हो जायेगी ,इसलिए कई बेऱोजगार छात्रों के शिक्षक बनने का सपना अब शायद ही पूरा हो पायेगा ।

Friday, December 16, 2011

नैनीताल: कुर्माचल नगर सहकारी बैंक के सहायक पद द्वितीय की लिखित परीक्षा 18 को

नैनीताल: कुर्माचल नगर सहकारी बैंक के सहायक पद द्वितीय की लिखित परीक्षा एमबीपीजी कालेज हल्द्वानी, एसजीआरआर पीजी कालेज देहरादून व पथरीबाग में 18 दिसम्बर को 11 बजे से होगी। सचिव मनोज साह ने बताया कि विस्तृत जानकारी बैंक से प्राप्त की जा सकती है।

टीईटी पास 2253 बनेंगे प्रशिक्षु शिक्षक

नियुक्ति को लेकर असमंजस में डूब-उतरा रहे टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट (टीईटी) पास अभ्यर्थियों के लिए खुशखबरी। 2253 रिक्त पदों पर उन्हें बतौर प्रशिक्षु शिक्षक वर्षवार वरिष्ठता के मुताबिक जिलेवार नियुक्ति मिलेगी।

Wednesday, December 14, 2011

प्रदेश सरकार ने मलिन बस्ती वालों को दिया तोहफा

गरीबों को मुफ्त मकान, प्लाट ,खंडूरी कैबिनेट ने दी मलिन बस्ती नीति को मंजूरी

राज्य आंदोलनकारियों के आश्रितों को भी आरक्षण


देहरादून। सरकार ने राज्य आंदोलनकारियों के आश्रितों को भी सरकारी नौकरियों में 10 फीसदी का क्षैतिज आरक्षण दे दिया है। साथ ही उनके बच्चों को स्कूल या कॉलेजों में मुफ्त पढ़ाई और माता-पिता को भी परिवहन निगम की बसों में सफर करने की सुविधा दी जाएगी। आंदोलनकारी पति या पत्नी की मृत्यु पर उसके करीबी को पेंशन मिलेगी।

Tuesday, December 13, 2011

जल्द नियुक्‍त होंगे 775 पंचायत विकास अधिकारी

कैबिनेट के फैसले के बाद शासनादेश जारी
देहरादून। कैबिनेट के फैसलों को तेजी से मूर्त रूप दिया जा रहा है। इसी क्रम में पंचायतीराज विभाग ने भी ग्राम पंचायत विकास अधिकारी के 1175 के कैडर का शासनादेश जारी कर दिया।

Saturday, December 10, 2011

फिजियोथेरेपिस्ट भर्ती प्रक्रिया रोकी

हाइकोर्ट ने सरकार से तीन सप्ताह में मांगा जवाब




नैनीताल: हाइकोर्ट ने समूह-ग की सम्मिलित भर्ती परीक्षा-2011 में फिजियोथेरेपिस्ट के 42 पदों की भर्ती प्रक्रिया पर फिलहाल रोक लगा दी है।

कार्यालय उपमहानिरीक्षक, पुलिस दूरसंचार उत्तराखण्ड, lest date 12.1.2012

उत्तराखण्ड पुलिस संचार विभाग द्वारा समूह-’ग’ के निम्नलिखित सीधी भर्ती के
रिक्त पदों हेतु अर्ह अभ्यर्थियों से निर्धारित प्रारूप में आवेदन-पत्र आमंत्रित किये जाते है।
- रिक्त पदों का विवरण-
1 रेडियो अनुरक्षण अधिकारी -12
2 रेडियो केन्द्र अधिकारी-17
3 सहायक परिचालक -67
  5- आयुसीमाः

Friday, December 9, 2011

दिल्ली में भी उत्तराखंड की ई-सेवा शुरू

नई दिल्ली। -उत्तराखंड के मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूड़ी ने सोमवार को उत्तराखंड निवास में जनाधार ई-सेवा का शुभारंभ किया और कहा कि इस सेवा से उत्तराखंड एवं दिल्ली में रह रहे प्रवासी उत्तराखंडवासियों को आवश्यक प्रमाण-पत्र, इनमें जाति, स्थायी निवास, जन्म, चरित्र, आय एवं हैसियत, पर्वतीय क्षेत्र निवास एवं राजस्व संबंधी प्रमाण पत्र प्रमुख हैं।

Wednesday, December 7, 2011

LATEST EXAM DATES: G19: SUNDAY 22 JAN 2012

 LATEST EXAM DATES: G19:  SUNDAY 22 JAN 2012
रुड़की: समूह ‘ग’ की ग्रुप 19  की परीक्षा 22 jan 1012 को  होगी।

Thursday, December 1, 2011

दिन 15, खर्चने हैं 4000 करोड़

विकास धूलिया, देहरादून
अब जबकि राज्य विधानसभा चुनाव के लिए आचार संहिता जारी होने में महज चंद दिन शेष है,

अब हर माह खुलेगी नौकरियों की पोटली

देहरादून,- क्षेत्रीय सेवायोजन कार्यालय में आयोजित दो दिवसीय रोजगार मेले में बुधवार को विभिन्न कंपनियों ने युवाओं का चयन किया।

हमारे गांव-कस्बों के सपूत छाए एनडीए परेड में

अरुणेश पठानिया-
देहरादून।- कोटद्वार से हैं विज्ञान संकाय के टॉपर कैडेट अमित कंडवाल
सैन्य पृष्ठभूमि के अमित परिवार में पहले सैन्य अफसर बने, भारतीय नौसेना को ज्वाइन करेंगे
पिता की दुकान पर कैडेट्स को आते देख सलमान में पैदा हुई ललक
गांवों-कस्बों से निकले उत्तराखंड के सपूतों ने एक बार फिर साबित कर दिया कि इच्छाशक्ति मजबूत और इरादा पक्का हो तो मंजिल खुद-ब-खुद करीब आ जाती है।

..आई कार्ड दिखाओ, बस में मुफ्त जाओ


देहरादून। आईकार्ड दिखाओ और मुफ्त में जाओ। जी हां, राज्य सरकार के फैसले से विश्वविद्यालय की छात्राओं को उत्तराखंड परिवहन निगम की बसों में अब यह सुविधा मिलेगी।

Wednesday, November 30, 2011

राशन में सेंधमारी पर कसेगी लगाम

विकास धूलिया, देहरादून-
सस्ते राशन की दुकानों के बूते घर चलाने वाले राज्य के लाखों लोगों के लिए एक राहतभरी खबर, जल्द ही उन्हें घटतौली, खाद्यान्न वितरण

शिक्षा मित्र बनेंगे 343 आचार्य-अनुदेशक

शिक्षा मित्र बनने से रह गए 343 शिक्षा आचार्य-अनुदेशकों की मुराद जल्द पूरी होगी। सरकार अगले महीने के पहले हफ्ते में उन्हें तोहफा थमा सकती है।

लोक साहित्य लोक के हाथ में

पहल : संस्कृति महकमे के सहयोग से प्रकाशित हुई लोक से जुड़ी बीस कृतियां

Tuesday, November 29, 2011

जेएनएनयूआरएम से जुडें़गे प्रदेश के छह अन्य शहर

गंगा और अलकनंदा के तट पर बसे शहर होंगे मिशन में शामिल अभी दून, हरिद्वार और नैनीताल शहरों में चल रहा है मिशन,शहरी विकास विभाग द्वारा गंगा तट पर बसे दूसरे शहरों उत्तरकाशी, देवप्रयाग और ऋषिकेश व अलकनंदा पर बदरीनाथ, कर्णप्रयाग, रुद्रप्रयाग व श्रीनगर को मिशन के दूसरे चरण में शामिल करने के लिए केंद्र को प्रस्ताव भेजा गया है।

सरकार ने युवाओं को रिझाया

उद्योगों की स्थापना के लिए सिं गल विंडो सिस्टम को दिया कानूनी रूप
देहरादून - प्रदेश सरकार ने युवाओं को रिझाने के लिए युवा नीति घोषित कर दी है। इसके तहत युवाओं के लिए विभागों में अलग से बजट व रोजगारपरख शिक्षा की व्यवस्था की गई है।

मुझको पाड़ी मत बोलो, पर सुनूंगा ’बेड़ु पाको‘

आधुनिकता के रंग में रंगी पहाड़ की नई पीढ़ी भी संस्कृति के प्रति है संजीदा
 शहर की चकाचौंध से लोगों का जीवन स्तर ही नहीं जीवन शैली भी बदलती जा रही है। कहने को लोग पहाड़ छोड़कर खुद को देहरादून या दूसरे शहरों का बाशिंदा बताने लगे हैं, लेकिन आज भी  आधुनिक परिवेश वाले पहाडी शहर में ‘पहाड़’ को भुलाना आसान नहीं है। यहां शादी ब्याह में सुनाई देने वाले वाली पहाड़ी वाद्य यंत्रों की गूंज के साथ ही बैंड की धुन पर पहाड़ में गाये जाने वाले लोक गीतों की धुन बजती है तो लोग बरबस ही थिरकने लगते हैं।

उत्ताराखंड आयुष प्री-मेडिकल टेस्ट (यूएपीएमटी)राज्य कोटे की तीसरी काउंसलिंग 30 नवंबर को आयोजित की जायेगी,


Monday, November 28, 2011

तान्या नेगी बनी मिस उत्तराखंड 2011


 देहरादून। -कोटद्वार निवासी मास कम्यूनिकेशन की स्टूडेंट तान्या नेगी निर्णायकों की पहली पसंद बनीं। ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी की छात्रा तान्या मॉडलिंग के क्षेत्र में कॅरियर बनाना चाहती हैं।

Sunday, November 27, 2011

आस्था ने बदल दी सोच

समय के साथ सोच भी बदली और बदल गई बलि देने की परंपरा। 500 सालों से मन्नत पूरी होने पर लोग बलि देते रहे हैं, आज उस बूंखाल मेले में एक भी पशुबलि नहीं दी गई।
अपने इतिहास में पहली बार बिना पशुबलि के संपन्न हो गया बुंखाल मेला

Saturday, November 26, 2011

ग्रुप 21 की 12 केंद्रों पर होगी परीक्षा

रुड़की: समूह ‘ग’ की ग्रुप 21 की परीक्षा 27 नवंबर को चार शहरों में 12 केंद्रों पर होगी। परीक्षा में 42 सौ अभ्यर्थी शामिल होंगे। उत्तराखंड प्राविधिक शिक्षा परिषद के संयुक्त सचिव हरि सिंह ने बताया कि 27 नवंबर को ग्रुप 21 के कोड 30 में सिंचाई विभाग के प्रारूपकार के 47 पदों की भर्ती के लिए परीक्षा होगी। परीक्षा के लिए पूरे प्रदेश में चार शहरों में 12 केंद्र बनाए गए। इनमें देहरादून में छह, काशीपुर में दो, श्रीनगर में दो और अल्मोड़ा में दो केंद्र बनाए हैं। परीक्षा सुबह की पाली में होगी।

Friday, November 25, 2011

अस्थायी रूप से 240 दिन से अधिक काम करने वाले को पक्की नौकरी पर रखा जाए : सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अस्थायी रूप से 240 दिन से अधिक काम करने वाला कर्मचारी पक्की नौकरी का हकदार हो जाता है। यह जरूरी नहीं कि 240 दिन की अवधि एक कलेंडर वर्ष में पूरी की गई हो।

Tuesday, November 22, 2011

26 हजार में से मात्र दो-ढाई हजार को फायदा ?

तो गिनती के कर्मचारी ही हो सकेंगे नियमित
विनियमितीकरण के लिए अधिसूचना जारी
देहरादून। राज्य के सरकारी दफ्तरों में कार्यरत संविदा, कार्यभारित, दैनिक वेतन भोगी, नियत वेतन,

Thursday, November 17, 2011

समूह ग की परीक्षा तिथियों में फेरबदल






उत्तराखंड प्राविधिक शिक्षा परिषद ने 27 नवंबर को होने वाली समूह ग की परीक्षा तिथियों में फेरबदल किया है। जिसके अनुसार - 
      11 दिसंबर- को ग्रुप 10 23 की परीक्षा होगी,
       27 नवंबर- को ग्रुप 21 के कोड 30 की परीक्षा होगी,  
              (20 नवंबर)- गुप दो, चार, सात व तेरह की परीक्षा( यथावत)
  
पूर्व में समूह ग के ग्रुप 10 23 की परीक्षा तिथि 27 नवंबर तय की गई थी।

बेरोजगार छात्र के सपनो पर ग्रहण

शायद ही उनका शिक्षक बनने का सपना पूरा हो, फरवरी 2012  से वि बीटीसी बंद हो जाने के कारण यह बीएड के छात्रों के लिए अंतिम अवसर होगा ......हमारी सरकार जो रोजगार के नाम पर बडे -बडे दावे कर रही ,उसे अन्य कई राज्य की तरह टीईटी के  60 प्रतिशत की अनिवार्यता को 50 प्रतिशत करके छात्रों के हितों का ध्यान रखना चाहिए जिससे बेरोजगार छात्र के सपनो पर ग्रहण न लग सके .।.............

Wednesday, November 16, 2011

राज्य सरकार, बोर्ड और एनसीटीई को नोटिस

 टीईटी परीक्षा को चुनौती
नैनीताल। हाईकोर्ट ने टीईटी के परीक्षा को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई के बाद सरकार, विद्यालयी शिक्षा परिषद बोर्ड व एनसीटीई को नोटिस जारी कर तीन सप्ताह में जवाब दाखिल करने के निर्देश दिए हैं।
न्यायमूर्ति सुधांशु धूलिया की एकलपीठ ने बड़कोट (उत्तरकाशी) निवासी मनवीर सिंह आदि की याचिका पर सुवनाई की। इसमें कहा गया है विद्यालयी शिक्षा परिषद ने टीईटी परीक्षा में गणित और पर्यावरण अध्ययन के सवालों में तार्किक बुद्धि के प्रश्न को शामिल नहीं किया गया। यह एनसीटीई की गाइड लाइन के खिलाफ है। साथ ही पांच प्रश्नों पर विवाद उत्पन्न किया गया कि इनके उत्तर उत्तरपुस्तिका में गलत रूप से दर्शाये गये हैं। विवादित प्रश्नों पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के अनुसार सभी को बराबर अंक दिए जाए तथा जिन प्रश्नों पर याची द्वारा विवाद उत्पन्न किया गया है उन प्रश्नों की भी पुन: समीक्षा कर उन्हें विवादित घोषित कर सभी को बराबर अंक दिए जाएं। एकलपीठ ने सरकार, उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद बोर्ड रामनगर व एनसीटीई को नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने के निर्देश दिए।

Tuesday, November 15, 2011

UTTARAKHAND Teacher Eligibility Test (TET) announced the results


टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट (टीईटी) का बहुप्रतीक्षित रिजल्ट सोमवार को घोषित कर दिया गया। परीक्षा में 11206 यानी महज 27.5 फीसदी ही प्राइमरी शिक्षक बनने के पात्र घोषित किए गए हैं। इस परीक्षा में 42393 परीक्षार्थियों ने आवेदन पत्र भरा था। इसमें से महज 40670 परीक्षार्थी ही परीक्षा में सम्मिलित हुए। इनमें 11206 को परीक्षा में सफल घोषित किया गया है। टीईटी में पास होने के लिए सामान्य वर्ग के लिए 60 फीसदी और आरक्षित वर्गो के लिए 50 फीसदी अंक पाने अनिवार्य हैं। इस प्रतिबंध के साथ 150 अंक के प्रश्नपत्र में 90 अंक लाने वाले सामान्य वर्ग और 75 अंक लाने वाले आरक्षित वर्गो के परीक्षार्थी पास घोषित किए गए हैं। 

Download Provisional Score Card
UTET-I Exam, 2011
Enter Your Roll Number to Download Score Card-click down
http://ubse.co.in/DownloadResultUBSE.aspx


or-http://www.ubse.co.in/

Monday, November 14, 2011

पहाड़ से बैर किलै, गैरसैंण गैर किलै , पहाड़ मांगी राजधानी देहरादून सैर किलै-( कौथिग-2011)

कौथिग में गढ़वाली कवि सम्मेलन में उभरी पहाड़ की पीड़ा
देहरादून, अपना राज मिलने के ग्यारह साल बाद भी विकास को तरसता पहाड़, पलायन से सूने होते गांव व खेत-खलिहान, गहरी होती भ्रष्टाचार की जड़ें, राजनीति के झूठे वायदे। यही तो है उत्तराखंड का सच,

Sunday, November 13, 2011

भीमताल बनेगा वाटर स्पो‌र्ट्स का केंद्र

राकेश सनवाल, भीमताल
कुमाऊंनी संस्कृति के साथ इको टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए वैलनेस सर्किट योजना के तहत कई पर्यटन स्थलों का कायाकल्प होगा।

उद्योगो का पहाड़ होगा उत्तराखंड

देहरादून-प्रदेश कैबिनेट ने पर्वतीय उद्योग नीति में संशोधन करते हुए पहाड़ों में औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने का फैसला किया है। इसके तहत पर्वतीय क्षेत्रों में उद्योगों के विकास के लिए प्रोत्साहन दिया जाएगा। इन क्षेत्रों में स्थापित उद्योगों को 30 फीसद अनुदान दिया जाएगा। इसके अलावा कैबिनेट ने राज्य और जिला उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष और सदस्यों के मानदेय में वृद्धि, मैदानी क्षेत्रों के लिए स्टोन क्रशर नीति घोषित, भवन निर्माण के लिए नए बायलॉज लागू, नई खनन नीति को मंजूरी, करगिल शहीदों के आश्रितों के वाषिर्क भत्ते में बढ़ोतरी तथा भूतपूर्व सैनिकों के बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए दी जा रही छात्रवृत्ति को दोगुना करने का भी फैसला किया है।

Thursday, November 10, 2011

स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री ने दिए तोहफे

देहरादून- राज्य स्थापना की 11वीं वर्षगांठ पर मुख्यमंत्री मेजर जनरल (सेनि) भुवन चंद्र खंडूड़ी ने आम लोगों, किसानों, भूतपूर्व सैनिकों और छात्राओं के लिए कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की हैं।

Uttarakhand Pre ANM and GNM SECOND COUNSELING 12.11.11 and 13.11.11

Rishikesh-Karanprayag rail link यहां से होकर जायेगी रेल



Wednesday, November 9, 2011

मेरी तकदीर को लिखकर खुदा भी मुकर गया...(उत्तराखंड स्थापना दिवस पर विशेष)


( विजय त्रिपाठी)
उम्र के नौवें दशक से गुजर रहे शारीरिक तौर पर अशक्त लेकिन हौसले से भरपूर सामाजिक-राजनीतिक आंदोलनों के जरिए सिस्टम से जीवन भर जूझते रहने वाले परिपूर्णानंद पैन्यूली से हाल ही हालचाल लेते हुए पूछा कि कैसे हैं, तो पूरी मासूमियत से बोले-उत्तराखंड से अच्छा। अब उनकी ये हाजिरजवाबी महज ठिठोली थी या तंज, लेकिन आज राज्य स्थापना दिवस पर राज्य की हालत बयान करने के लिहाज से सर्वाधिक उपयुक्त। आज अपना उत्तराखंड 11 साल का हो गया है। बाल्यावस्था से किशोरावस्था की ओर बढ़ चला है। लेकिन पीछे मुड़कर देखें आंखें गीली हो आती हैं। तमाम आधारभूत-मूलभूत सुविधाएं अभी भी नवजात अवस्था में ही हैं, तमाम सपने अभी भी अधूरे ही है, तमाम ख्वाहिशें खारिज-सी हो चुकी हैं। अभी दो आज दो उत्तराखंड राज्य दो-जैसे नारे उस वक्त आवाज नहीं, जुनून थे। हमारा राज्य-हमारा राज की जिद से जूझकर-जान देकर हासिल किया गया उत्तराखंड आज खंडित आशाओं का प्रदेश बनता जा रहा है, शासन-सत्ता से नैराश्य घर करता जा रहा है। कुछ हमने तरक्की की है, कुछ मिसालें कायम की हैं, लेकिन ये लौ अ-विकास केघनघोर-घटाटोप अंधेरे का मुकाबला करने के लिए नाकाफी हैं।
बात तो यही तय थी, हमारे अगुवाकारों को इस राज्य की नई कहानी लिखनी थी, लेकिन हम ठगे से खड़े हैं। किसी शायर की चंद लाइनें ऐसे मौके पर बरबस याद आ रही हैं।
मुझे उससे कोई शिकायत ही नहीं
शायद मेरी किस्मत में चाहत ही नहीं
मेरी तकदीर को लिखकर खुदा भी मुकर गया
पूछा तो बोला ये मेरी लिखावट ही नहीं

Friday, November 4, 2011

पांच साल में चढ़ जाएगी पहाड़ पर रेल

नौ नवंबर को कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी गौचर के मैदान में रेल लाइन की आधारशिला रखेंगी।

Monday, October 31, 2011

देवभूमि उत्तराखंड का प्रमाणपत्र दिल्ली में


राज्य स्थापना दिवस के मौके पर 9 नवंबर को उत्तराखंड से बाहर निवास कर रहे राज्यवासियों को राज्य सरकार की ओर से तोहफा मिलेगा। लोगों को अब अहम प्रमाणपत्र बनाने को अपने गृह जनपद आने की जरूरत नहीं होगी।

24 हजार कर्मियों को मिलेगी स्थाई नियुक्ति




देहरादून,  मुख्यमंत्री भुवनचंद्र खंडूड़ी कैबिनेट ने दस वर्ष से अस्थायी व्यवस्था पर कार्यरत करीब 24 हजार

Saturday, October 22, 2011

Group c -समूह ग: चौथे चरण की परीक्षा 27 नवंबर को

समूह ग के ग्रुप 10 एवं ग्रुप 23  के लिए 27 नवंबर को परीक्षा होगी।  चौथे चरण में
GROUP- 10 में कोड 11, 17, 22, 25, 33 एवं 50 और
GROUP 23 में कोड 34 की परीक्षा नियत की गई है।
ग्रुप दस में कोड 11 में रेशम विभाग में प्रदर्शक के 35 पद, कोड 17 में चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के मलेरिया निरीक्षक के 11 पद एवं कोड 22 में प्रयोगशाला सहायक ग्रामीण के 55 पदों के लिए, कोड 25 में ग्राम्य विकास विभाग में ग्राम्य विकास अधिकारी के 286 पद, कोड 33 के गन्ना चीनी विभाग के गन्ना पर्यवेक्षक के 105 पद और कोड 50 के राजकीय दुग्ध पर्यवेक्षक के डेयरी विकास विभाग के 24 पद शामिल हैं। समूह ग के ग्रुप 23 के कोड 34 में महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग में मुख्य सेविका के 176 पद शामिल हैं।

लागू रहेगा भू-सुधार संशोधन कानून

 उत्तराखंड में फिलहाल जमींदारी उन्मूलन भूमि सुधार संशोधन कानून लागू रहेगा

Friday, October 21, 2011

•श्रीनगर से गुड़गांव तक चलेगी बस!

ऋषिकेश। रोडवेज प्रशासन की गुड़गांव वाया ऋषिकेश और श्रीनगर के बीच नई बस सेवा

Thursday, October 20, 2011

UTTARAKHAND CIVIL COURT CLERK/STENO RECRUITMENT- 2011 -RESULT

हाईकोर्ट के विरुद्ध सुप्रीम कोर्ट गई राज्य सरकार

- भूमि खरीद सीमा निरस्त करने वाले उत्तराखंड हाईकोर्ट के फैसले को खंडूरी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। राज्य सरकार की याचिका में कहा गया है कि प्रदेश में 12 फीसदी ही कृषि भूमि है जिसकी अनैतिक खरीद को रोकने के लिए यह कानून लाया गया था। शीर्ष कोर्ट इस मामले पर बृहस्पतिवार को सुनवाई करेगी। उत्तराखंड सरकार की ओर से वकील रचना श्रीवास्तव ने 22 सितंबर को जारी किए गए हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ विशेष अनुमति याचिका दायर की।

vacancy for B.Ed colleges in Uttarakhand(self finance)

रिक्तियां महाविद्यालय स्तरीय हैं। महाविद्यालयवार रिक्तियों का विवरण एवं अन्य महत्वपूर्ण सूचनायें उच्च शिक्षा निदेशालय, उत्तराखण्ड की वैबसाइट www.directorateheuk.org पर उपलब्ध हैं। सभी रिक्तियों हेतु न्यूनतम अर्हता एवं चयन एन.सी.टी.ई. के मानदण्ड एवं दिशा निर्देश विनियम, 2009 में वर्णित मानकों के आलोक में निर्गत उत्तराखण्ड शासनादेश संख्या 371/ग्ग्प्ट(7)/51(3)/2010, दिनांक 07 अप्रैल, 2010 में वर्णित व्यवस्थाओं के अधीन होंगे।

Friday, October 14, 2011

(Uttarakhand public service commission ) RAJYA AVAR SERVICE EXAM-2010 -examination date 6 november 2011

उत्तराखंड लोकसेवा आयोग की ओर से सम्मिलित राज्य अवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा 2010 की परीक्षा तिथि
6 नवम्बर 2011

Tuesday, October 11, 2011

छड़ी तो घुमाई पर जादू अभी नहीं चला

विजय त्रिपाठी-
नैनीताल स्थित पाषाण देवी में गहरी आस्था रखने वाले खंडूरी साहब ने चार दिन पहले भाजपा में अपने आने के पीछे एक दिव्य कहानी सुनाई थी कि जब सेना से रिटायर होकर राजनीति में जाने का मन बनाया तो कांग्रेस ज्वाइन करने जा रहे थे लेकिन एक रात पाषाण देवी ने सपने में दर्शन देकर उन पर कमल का फूल गिराया
प्राइवेट परीक्षाओं के आवेदन फार्मों की बिक्री शुरू

Saturday, October 8, 2011

group c (समुह ग) की परीक्षा 9 सितंबर परीक्षा आयोजन के संबध मे सूचना

बीएड प्रवेश परीक्षा का परिणाम घोषित

श्रीनगर।विवि ने बीएड प्रवेश परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है

GROUP-C RECRUITMENT ,GROUP 01, GROUP 17 GROUP 09,-GROUP 20- GROUP 26 -WRITTEN EXAM ON 09 OCTOBER 2011GROUP-C RECRUITMENT ,GROUP 01, GROUP 17 GROUP 09,-GROUP 20- GROUP 26 -WRITTEN EXAM ON 09 OCTOBER 2011

GROUP 01, -पद कोड  -5 .24  ,.53., 54
 GROUP 17 , -पद कोड 23
GROUP 09,--पद कोड -10,48,52
GROUP 20-पद कोड 29
& GROUP 26 पद कोड -41
WRITTEN EXAM   ON 09 OCTOBER 2011
AT ALL 13 DISTRICTS

समूह-ग आवेदन पत्रों पर आज होगा फैसला

रुड़की। समूह ‘ग’ भर्ती परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले उन अभ्यर्थियों के लिए अच्छी खबर है,

Thursday, October 6, 2011

अब पहाड़ को एक पहाड़ी की जरूरत

संतोष बिष्ट
उत्तराखंड को सच में एक माई का लाल चाहिए जो कि इस नन्हे उत्तराखंड को भ्रष्टाचार के दानव से बचाने की जुरत करे। देव भूमि को दानव भूमि बनाने के लिए

Garhwal University, Srinagar M.Ed. admission-2010-11 session, M.Ed. entrance exam of Garhwal University-Date of entrance test- 9th November, 2011

forms available- 8th October to 24th October from University cash counter Srinagar,

A.N.M (Auxiliary Nursing and Midwifery), G.N.M (General Nursing and Midwifery) Date of entrance exam- 9th October, 2011

A.N.M , G.N.M courses in Uttarakhand-Date of entrance exam- 9th October, 

GNM- 10 am to 12 noon 

ANM- 2 pm to 4 pm

2011You can also visit the official website of GB pant University of agriculture and technology, Pantnagar

Wednesday, October 5, 2011

वीडीओ भर्ती मसला जल्द सुलझेगा

देहरादून, - तीन ग्राम पंचायतों में एक ग्राम पंचायत विकास अधिकारी (वीडीओ) के रिक्त पदों पर भर्ती को 18 अक्टूबर, 2006 में अधिसूचना जारी कर तीन ग्राम पंचायतों में एक वीडीओ की तैनाती का फैसला कर 2409 पदों को मंजूरी दी गई।

Sunday, October 2, 2011

विवि में होने वाली नियुक्तियों पर स्टे

श्रीनगर,- याचिका पर निर्णय देते हुए नैनीताल उच्च न्यायालय ने गढ़वाल विश्वविद्यालय की ओर से शिक्षकों की नियुक्तियों को लेकर विगत 29 अगस्त को प्रकाशित विज्ञापन के संदर्भ में स्टे दे दिया है।

रामपुर तिराहा के शहीदों को नमन


2 अक्टूबर को मुजफ्फरनगर के रामपुर तिराहा कांड की १७ बरसी । यह हादसा उत्तराखंड आंदोलन के लिए लड़ी गई लड़ाई का दुर्भाग्यपूर्ण दिन था। इस दिन राज्य आंदोलनकारी बड़ी संख्या में पुलिस बर्बरता के शिकार हुए। महिलाएं पुलिस बर्बरता की शिकार हुईं। वे घाव लोगों के मन में अभी भी हरे हैं। सैकड़ों गवाह मौजूद हैं, लेकिन सजा अभी तक किसी को नहीं हुई।
अमर शहीदों के नाम
१- अमर शहीद स्व० सूर्यप्रकाश थपलियाल(20), पुत्र श्री चिंतामणि थपलियाल, चौदहबीघा, मुनि की रेती, ऋषिकेश।
२- अमर शहीद स्व० राजेश लखेड़ा(24), पुत्र श्री दर्शन सिंह लखेड़ा, अजबपुर कलां, देहरादून।
३- अमर शहीद स्व० रविन्द्र सिंह रावत(22), पुत्र श्री कुंदन सिंह रावत, बी-20, नेहरु कालोनी, देहरादून।
४- अमर शहीद स्व० राजेश नेगी(20), पुत्र श्री महावीर सिंह नेगी, भानिया वाला, देहरादून।
५- अमर शहीद स्व० सतेन्द्र चौहान(16), पुत्र श्री जोध सिंह चौहान, ग्राम हरिपुर, सेलाकुईं, देहरादून।
६- अमर शहीद स्व० गिरीश भद्री(21), पुत्र श्री वाचस्पति भद्री, अजबपुर खुर्द, देहरादून।
७- अमर शहीद स्व० अशोक कुमारे कैशिव, पुत्र श्री शिव प्रसाद, मंदिर मार्ग, ऊखीमठ, रुद्रप्रयाग।
इन सभी शहीदों की शहादत की १७ वीं बरसी पर pahar1.blogspot.com समस्त उत्तराखण्ड की जनता की ओर से अपनी विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता है।

Saturday, October 1, 2011

Direct Recruitment of Group B and C Posts Uttarakhand Public Service Commission , - lest date 31 oct 2011


Uttarakhand Public Service Commission, Direct Recruitment of Group B and C Posts-
lest date 31 oct 2011

त्तराखण्ड राज्य के विभिन्न विभागों में लोक सेवा द्वारा
सीधी भर्ती समूह ख और भर्ती
के रिक्त पदों पर भर्ती के लिये लिखित परीक्षा के
आयोजन हेतु अन्तिम तिथि: 31 0ct  2011 

पहली अक्टूबर से हेल्थ इंश्योरेंस पोर्टेबिलिटी लागू,पटरी पर लाएं हेल्थ इंश्योरेंस की गाड़ी


ज्यादातर लोग अपनी मौजूदा बीमा कंपनी की खराब सर्विस इसलिए बर्दाश्त करते रहते हैं, क्योंकि वे अपनी पॉलिसी की मौजूदा सुविधाओं से हाथ नहीं धोना चाहते।

Thursday, September 29, 2011

अब होंगी ग्राम सरकारें


पंचायती राज विधेयक सदन में पेश
देहरादून - राज्य में पंचायती राज एक्ट बनने का रास्ता साफ हो गया है। सरकार ने बुधवार को पंचायती राज विधेयक सदन में पेश कर दिया है। इससे पूर्व कैबिनेट ने आज ही विधेयक को मंजूरी दी है।

Tuesday, September 27, 2011

विद्यालयी शिक्षा उत्तराखण्ड के आई0टी0 एकेडमी, देहरादून में विभागीय शिक्षक/कर्मचारी कम्प्यूटर प्रशिक्षण हेतु दो कम्प्यूटर प्रशिक्षकों को वर्ष 2011-12 हेतु अस्थाई रूप से संविदा के माध्यम से -अन्तिम तिथि:- 15 अक्टूबर 2011आवेदन पत्र नीचे देखे


निदेशालयः- विद्यालयी शिक्षा उत्तराखण्ड, ननूरखेड़ा देहरादून।
निदेशालय,  विद्यालयी  शिक्षा  उत्तराखण्ड  के  नियन्त्रणाधीन  संचालित  विभाग  की  आई0टी0
एकेडमी,  देहरादून  में  विभागीय  शिक्षक/कर्मचारी  कम्प्यूटर  प्रशिक्षण  हेतु  दो  कम्प्यूटर  प्रशिक्षकों  को  वर्ष 2011-12 हेतु अस्थाई रूप से संविदा के माध्यम से रू0 20000/- (रू0 बीस हजार मात्र)

आखिर कनकै बचलि भाषा’-

कोटद्वार: धाद लोक भाषा एकांश के तत्वावधान में ‘आखिर कनकै बचलि भाषा’(आखिर कैसे बचेगी भाषा) विषय पर आयोजित व्याख्यान माला में विलुप्त होने की कगार पर पहुंच चुकी गढ़वाली,

प्रदेश मे केवल पांच ही विवि और संस्थान..... इस पर प्रदेश का अकेला केन्द्रीय विवि (हे.न.ब.ग. वि .) ही मौजूद नही

शिक्षा के क्षेत्र मे उत्तराखंड अग्रणी भले ही जाना जाता हो लेकिन सरकार के अनुसार प्रदेश मे केवल पांच ही विवि और संस्थान है, यह हम नही प्रदेश सरकार की साइट कह रही है . ...
क्या प्रदेश मे केवल पांच ही विवि और संस्थान है ..जी हां प्रदेश सरकार की साइट से देखकर तो यही लगता है ,

प्रदेश का अकेला केन्द्रीय विवि (हे.न.ब.ग. वि .) ही मौजूद नही, देश और विदेश मे अपनी अलग पहचान रखने वाला फौरेस्ट का न. संस्थान एफआरआई ,पैट्रोलियम विवि जैसे संस्थान सरकार की साइट पर ही नही .

राजधानी में पहली बार होगी गढ़वाली रामलीला

महिलाएं ही निभाएंगी महिला पात्रों की भूमिका गढ़वाली में होगा गीत-संगीत
 देहरादून -रामलीला के सभी पात्र गढ़वाली भाषा में संवाद बोलेंगे।

Friday, September 23, 2011

कृषि भूमि खरीद कानून निरस्त


नैनीताल- हाईकोर्ट ने एक महत्वपूर्ण फैसले में उत्तराखंड राज्य के भीतर कृषि भूमि खरीद की सीमा निर्धारण करने संबंधी कानून को निरस्त कर दिया है।

Group,8 and Group5 any key (exam date 4sep 20011



Thursday, September 22, 2011

(Uttarakhand SAMUH- 'G' (GROUP- C) 25 SUPTEMBER -Exam Centers

pahar1-समुह ग भर्ती हेतु 25 सितम्बर को प्रात 10 बजे से 12.00 बजे तक ग्रुप 3 व 16  तथा 3 बजे से 5 बजे तक  ग्रुप 12 व 15 की लिखित परीक्षा 4   शहरों-
1-देहरादून में राजकीय पालीटेक्निक पित्थूवाला ,
2-श्रीनगर(ग)राजकीय पालीटेक्निक
3-काशीपुर,में राजकीय पालीटेक्निक
4-अल्मोड़ा में राजकीय महिला पालीटेक्निक   में आयोजित की जायेगी,

नैनीताल में सिटिजन चार्टर’ लागू

नैनीताल,  सरकारी कामकाज में अफसर-कर्मचारियों की टालमटोली से त्रस्त लोगों का कार्य समय पर निपटाया जा सके,

पीने-पिलाने वालों का हुक्का-पानी बंद

रुद्रप्रयाग,  घर-गांवों का सुख-चैन छीन रही शराब के खिलाफ अब आवाम ने आवाज बुलंद की है।

शोध को इग्नू देगा सहायता राशि

अनिल उपाध्याय, देहरादून- अब शोध के साथ ही शिक्षण को एक सप्ताह में कम से कम आठ घंटे का समय देने वाले क्षमतावान युवाओं को इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) सहायता राशि प्रदान करेगा।

महेंद्र सिंह धोनी के बाद उत्तराखंड ने दिया टीम इंडिया को एक और सितारा


कुमाऊं के उन्मुक्त होंगे जूनियर टीम इंडिया के कप्तान

एलटी शिक्षक भरती की जांच के आदेश


यूकेडी विधायक की शिकायत के बाद मुख्यमंत्री ने किया फैसला
देहरादून। सीएम भुवनचंद्र खंडूरी ने चंद महीने पहले हुई एलटी सहायक शिक्षक की भरती की जांच कराने के आदेश दिए।

Wednesday, September 21, 2011

group c admit card

प्रवेश पत्र को डाउनलोड करने लिए  लिंक http://www.ubter.in/ADMITCARD/ENTERNO.ASPX
और शुरु हो गया लिंक  धन्यवाद ,मेजर साहब

मेजर साहब, बेरोजगार छात्र परेशान हैं ..

कौन सुने फरियाद
- ग्र्रुप सी की दूसरे चरण की परीक्षाएं 25 सितंबर को
- हजारो छात्र होंगे शामिल
- नहीं मिले छात्रों को प्रवेशपत्र
- प्रवेश पत्र डाउनलोड लिंक भी बंद
- मुख्यमंत्री का आदेश-अधिकारी हर हाल में उठाएं फोन- भी बेअसर
pahar1-इसे अव्यवस्था कहें या कुछ और परीक्षा के नाम पर करोड़ों रुपये उगाह लेने के बावजूद उत्तराखंड बोर्ड आफ टेक्निकल एजुकेशन रुड़की ने परीक्षा को सुचारु रूप से कराने का कोई प्रयास नहीं किया।

Tuesday, September 20, 2011

गढ़वाली मेरी मातृभाषा कहने वाले साहित्यकार शैलेश ने सदा के लिए मौन

जब तक जिये, गढ़वाली साहित्य जिया

इंटरनेट से कैसे पैसे कमाएं

क्या आप इंटरनेट से पैसे कमाना चाहते हैं अगर हाँ तो इस लेख मे लिखा तरीका अपनाइए! आपको केवल इतना करना है कि आप इस एड्रेस http://www.viewbestads.com/public/index/index/ref/607443 पर क्लिंक  करें और अपने इंटरनेट ब्राऊसर पर इसे पेस्ट करके और इस वेबसाइट मे रजिस्टर हो जाएँ!

Sunday, September 18, 2011

Indian Air Force Vacancy 2011 FOR ALL DISTT UTTARAKHAND- CENTER - PAJ GOVERMENT DEGREE COLLEGE RAMNAGAR(UK) (12 oct 2011से 20 oct 2011)

भारतीय वायु सेना मे शामिल हों-वायु सैनिक बनें
12 oct 2011से 20 oct 2011 तक उत्तराखंड के पीएजी राजकीय डिग्री कालेज रामनगर (उत्तराखंड) मे विभिन्न जिलो की (गैर-तकनीकी) हेतु भर्ती रेली-

Saturday, September 17, 2011

अगर टीचर हैं तो 15 मिनट में लीजिए लोन

देहरादून। 15 मिनट में लीजिए लोन। यह किसी राष्ट्रीयकृत या बड़े कारपोरेट बैंक का विज्ञापन नहीं बल्कि छोटी सी दिखाई पड़ने वाली शिक्षक ऋण एवं बचत सहकारी समिति के प्रबंध का कौशल है।

JOBS IN -Chief Medical Office ,Udham Singh Nagar(UTTARAKHAND )

Friday, September 16, 2011

ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाइन के लिए आठ हजार करोड़ जारी




मुरादाबाद,- रेल मंत्रालय ने ऋषिकेश से कर्णप्रयाग तक 128 किलोमीटर लंबी रेल लाइन बिछाने को आठ हजार करोड़ रुपये आवंटित कर दिए हैं।

शिक्षकों की तबादला नीति पर रोक


मुख्यमंत्री खंडूरी ने दिया नई नीति तैयार करने का आदेश
देहरादून। शिक्षकों की हाल में घोषित तबादला नीति के अमल पर मुख्यमंत्री मेजर जनरल (अप्रा) भुवनचंद्र खंडूरी ने स्टे कर दिया है। कहा गया है कि इस पर अब अगली हिदायत तक कोई अमल नहीं किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने नई नीति तैयार करने का निर्देश दिया है।

गढ़वाल विवि की बैक पेपर परीक्षाएं 28 से

गढ़वाल विश्वविद्यालय की बैक पेपर परीक्षाएं (अंक सुधार) आगामी 28 सितम्बर से शुरू होकर 11 अक्टूबर तक चलेंगी।

Thursday, September 15, 2011

Hemwati Nandan Bahuguna Garhwal University I. TEACHING POSTS II. ACADEMIC POSTS II. NON- TEACHING POSTS Office on or before 10.10.2011.

Hemwati Nandan Bahuguna Garhwal University
 I. TEACHING  POSTS
 II. ACADEMIC POSTS
II. NON- TEACHING POSTS  Office on or before 10.10.2011.




स्व. बहुगुणा की विरासत खतरे में

बुधाणी: स्व. हेमवती नंदन बहुगुणा के बुधाणी स्थित पैतृक आवास को संग्रहालय में तब्दील करने की योजना 2006 से अब तक एक कदम भी आगे नहीं बढ़ पाई है।

Wednesday, September 14, 2011

हिंदी की आवाज बनी पहाड़ की नारी

हल्द्वानी ,कामकाजी छवि से इतर पहाड़ की नारी हिंदी के माथे की बिंदी बनती जा रही है। उत्तराखंड की आधी दुनिया की कुछ प्रतिनिधि विदेशों में हिंदी की अलख जगा रही हैं तो कुछ अहिंदी भाषी राज्यों में हिंदी की आवाज बन गई हैं।

निजाम बदलते ही बदल गए लोक गायक नेगी के सुर ‘अब कनगै खैल्यो’

 यह जनरल की छवि ही है  कि उस गायक ने जिसके  स्वर राज्य की सत्ता को हिला देते हो वह फिर  नौछमी नारैण.. शीषर्क से बने इस गीत या अब कतिगा खैल्यो’ हो लेकिन  सत्ता परिवर्तन के बाद नेगी ने ‘अब कनगै खैल्यो’ गाकर एक तरह से जनरल की  ईमानदार छवि की अपने तीन स्वर मे बता दिया ,
प्रख्यात गढ़वाली लोक गायक नरेन्द्र सिंह नेगी के कंठ से निकली तीन शब्दों की एक रचना इसका ताजा अहसास है। ‘अब कनगै खैल्यो’ यानि ‘अब कैसे खाओगे’ गाने लगे हैं। उत्तराखंड के लोक का मर्म गहराई से समझने वाले नरेन्द्र सिंह नेगी की जुबान से ये शब्द बरबस ही निकल पड़े हैं

जनरल की नई टीम उत्तराखंड की पिंच पर

प्रकाश पंत, त्रिवेंद्र और भौर्याल का कद बढ़ा निशंक के करीबी मंत्रियों का भी रखा ख्याल सुराज, भ्रष्टाचार उन्मूलन एवं जनसेवा विभागों का हुआ गठन

Tuesday, September 13, 2011

Hemwati Nandan Bahuguna Garhwal University,I. TEACHING POSTS II. ACADEMIC POSTS II. NON- TEACHING POSTS Office on or before 10.10.2011.

Hemwati Nandan Bahuguna Garhwal University
 I. TEACHING  POSTS
 II. ACADEMIC POSTS
II. NON- TEACHING POSTS  Office on or before 10.10.2011.




डोली नहीं घोड़ी पर बैठ विदा होती है दुल्हन

चमोली के दशोली क्षेत्र में डोली नहीं घोड़ी पर बैठ विदा होती है दुल्हन
गोपेश्र्वर ---शादी-ब्याह की बात करें तो घोड़ी पर सवार दूल्हे की तस्वीर आंखों में तैरने लगती है। लेकिन उत्तराखंड के सीमांत चमोली जिले के दशोली क्षेत्र के दर्जन भर गांवों में इसका अलग ही रंग है। यहां दुल्हन डोली में नहीं, बल्कि घोड़ी पर बैठकर विदा होती है।

मातृशक्ति के हौसले ने लिखी नई कहानी

कर्णप्रयाग। -वन माफिया के सामने लाचार दिखने वाले निजाम के लिए पहाड़ की मातृशक्ति ने एक मिसाल कायम की है।कर्णप्रयाग के गांव में वन माफिया के हौसले पस्त करते हुए विकसित कर दिया हरा-भरा मिश्रित वन ,अन्य कुरीतियों पर भी कसी लगाम

Sunday, September 11, 2011

चूक गए सफलता के अचूक मंत्र

( विजय त्रिपाठी)
भाद्रपद माह के शुक्लपक्ष की पूर्णिमा की पूर्व सन्ध्या पर हिंदू संस्कृति के चिंतकों-लेखकों में शुमार डॉ. (कांग्रेस से क्षमा समेत) रमेश पोखरियाल निशंक

(ब्रेकिंग न्यूज़ ) निशंक की छुट्टी, खंडूरी फिर संभालेंगे उत्तराखंड की कमान

देहरादून।। बीजेपी हाईकमान ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक की छुट्टी कर दी है। करीब सवा दो साल बाद बी.सी. खंडूरी एक बार फिर उत्तराखंड की कमान संभालेंगे।

Recruitments. Uttarakhand Police Constable Vacancy for Sports Man, 2011- Last Date 30-9-11


UAPMT counselling उत्तराखंड आयुष प्री-मेडिकल काउंसलिंग 15.9.11 और 16,9,11

Friday, September 9, 2011

ये आरोप हैं पोखरियाल पर


निशंक सराकर पर उत्तराखंड में एक नहीं कई घोटालों का आरोप है। ऋषिकेश में चार सौ करोड़ का घोटाला सामने आने के बाद राज्य की निशंक सरकार घेरे में आ गई। सरकार ने हरिद्वार और ऋषिकेश के बीच स्टैडिया इंडस्ट्री के भू-उपयोग को बदल दिया।

आउटसोर्स शिक्षकों की तैनाती अटकी

शिकायतों के बाद नियुक्ति प्रकि्रया रुकी

(ब्रेकिंग न्यूज़)उत्तराखंड के मुख्यमंत्री निशंक देंगे इस्तीफा!

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक संभवत:10 सितंबर को अपने पद से इस्तीफा देंगे। उनकी पार्टी भाजपा ने उन्हें ऐसा करने के लिए कहा है। संभावना जताई जा रही है कि वीसी खंडूरी को CM बनाया जाएगा।

प्रवक्ता तैनाती पर सीएम की मुहर, एलटी शिक्षकों की जल्द तैनाती के भी दिए निदेश

Thursday, September 8, 2011

राज्य आंदोलनकारियों को सरकारी नौकरी कैसे -हाईकोर्ट

देहरादून। घायल और जेल गए राज्य आंदोलनकारियों को सरकारी नौकरी दिए जाने के मामले पर हाईकोर्ट ने सवाल खड़े किए हैं। कोर्ट ने अपनी टिह्रश्वपणी में इसे आम लोगों के संवैधानिक अधिकारों का हनन भी माना है। साथ ही, मु य सचिव, प्रमुख सचिव (गृह),प्रमुख सचिव (कार्मिक) के माध्यम से राज्य सरकार, सभी

Monday, September 5, 2011

group ’C‘ examination second phase date 25 septembet 2011

समुह ग की दितीय फेस की,
GROUP - 3
,GROUP- 15
GROUP -12
GROUP -16
परीक्षा 25 सिंतबर 2011 को होगी इसके लिए सेंटर देहरादनू, श्रीनगर(ग),काशीपुर ,अल्मोडा को परीक्षा का सेंटर बनाया गया है प्रवेश पत्र २० तारीख तक न पहुचने पर आप
GROUP-C RECRUITMENT ADMIT CARD - 2011
से डाउनलोड कर सकते है

group c exam center -कुमाऊं और गढ़वाल में बनेंगे दो-दो सेंटर , पांच हजार से ज्यादा अयर्थी पर सभी जिलों में परीक्षा केंद्र,

देहरादून। -समूह ग परीक्षार्थियों के लिए राहत की खबर है।कुमाऊं और गढ़वाल में बनेंगे दो-दो सेंटर , पांच हजार से ज्यादा अयर्थी पर सभी जिलों में परीक्षा केंद्र, परीक्षार्थियों के लिए कुमाऊं और गढ़वाल मंडलों मे दो-दो जिलों में तत्काल प्रभाव से परीक्षा केंद्र बनाए जाने के निर्देश दिए गए हैं। किसी ग्रुप में अयर्थियों की संख्या पांच हजार से ज्यादा होने पर सभी जिलों में परीक्षा केंद्र बनाए जाएंगे।

group ’C‘ examination first phase held समूह ’ग‘ के पहले चरण की परीक्षा संपन्न

परीक्षा सेंटर खोजने में अभ्यर्थियों को करनी पड़ी खासी मशक्कत, प्रदेशभर के 6000 अभ्यर्थी पहुंचे दून
देहरादून - समूह ‘ग’ के पहले चरण की परीक्षा रविवार को देहरादून में सम्पन्न हुई। राजधानी में 10 केंद्रों में आयोजित परीक्षा में करीब 6000 अभ्यर्थी शामिल हुए। अधिकांश परीक्षा केंद्र शहर से बाहर होने के कारण अभ्यर्थियों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ा। कई अभ्यर्थी तो अंतिम समय तक परीक्षा केंद्र ढूंढते रहे। वहीं, उत्तराखंड प्राविधिक शिक्षा परिषद की ओर से अभ्यर्थियों व अभिभावकों की सुविधा के लिए कोई व्यवस्था नहीं किए जाने से उन्हें खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। रविवार को समूह ‘ग’ में ग्रुप पांच व आठ की परीक्षा देने के लिए प्रदेश के विभिन्न स्थानों से तमाम अभ्यर्थी दून पहुंचे। चयन परीक्षा के लिए राजधानी में अल्पाइन इंस्टीट्यूट, पित्थूवाला व सिद्धोवाला पालीटेक्निक, निम्बस एकेडमी, इंस्टीटय़ूट ऑफ मैनेजमेंट एण्ड टेक्नोलॉजी, राजकीय इंटर कालेज मेहूंवाला व पटेलनगर में 10 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। सभी केंद्रों में पहली पाली की परीक्षा पूर्वाह्न 11 बजे से शुरू होकर दोपहर एक बजे तक चली, जबकि दूसरी पाली की परीक्षा अपराह्न तीन से सायं पांच बजे तक चली। केंद्र के निकट बैठने की कोई व्यवस्था न होने से परीक्षा के दौरान अभिभावकों को केंद्रों के बाहर ही घंटों खड़े रहकर इंतजार करना पड़ा। परीक्षा के दौरान परिषद के अधिकारियों ने केंद्रों में पहुंच कर स्थिति का जायजा भी लिया। परीक्षा समाप्त होने के बाद अधिकांश अभ्यर्थियों ने महज दून में ही केंद्र बनाने पर नाराजगी जताई। कई अभ्यर्थियों का कहना था कि जगह-जगह मार्ग बंद होने के कारण उन्हें दो दिन पहले ही घर से निकलना पड़ा, ताकि वह परीक्षा में शामिल हो सकें। इससे पूर्व रविवार की सुबह प्रदेश के विभिन्न स्थानों से दून पहुंचे अभ्यर्थी परीक्षा केंद्रों की तलाश के लिए इधर-उधर भटकते रहे। कई अभ्यर्थियों को केंद्र तक पहुंचने के लिए काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा, क्योंकि अधिकांश परीक्षा केंद्र शहर से बाहर थे। अभ्यर्थियों का कहना था कि परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने के लिए प्रशासन को अतिरिक्त वाहनों की व्यवस्था करनी चाहिए थी। उक्त मागरे पर एकाएक यात्रियों का भार पड़ने से वाहन चालक मनमाना किराया वसूलने से भी बाज नहीं आये। इसके अलावा कई अभ्यर्थियों को इंटरनेट से प्रवेश पत्र डाउन लोड करने के लिए साइबर कैफे की तलाश में पसीना बहाना पड़ा, क्योंकि रविवार को अवकाश होने के कारण अधिकांश साइबर कैफे बंद थे।

Friday, September 2, 2011

उत्तराखंड बोर्ड ने जारी किए सिविल न्यायालय लिपिकीय वर्गीय सेवा परीक्षा के गलत उत्तर- The Board has issued the civil court clerical class service examination wrong answers-

उत्तराखंड अधीनस्थ सिविल न्यायालय लिपिकीय वर्गीय सेवा परीक्षा 28 अगस्त 2011 आयोजित की गई। परीक्षा की आंसर सीट को उत्तराखंड बोर्ड आर्फ टैक्निकल एजुकेशन की वेबसाइट पर जारी करने के बाद से ही परीक्षार्थियों के होश उड़ गए । परीक्षा के दूसरे दिन जारी आंसर सीट में कई विसंगतियां हैं। इस ओर ध्यान दिलाते हुए कुछ परीक्षार्थियों ने दावा-आपत्ति दर्ज कराने की बात कहीं है ।

जारी किए गए गलत उत्तर -

उत्तराखंड अधीनस्थ सिविल न्यायालय लिपिकीय वर्गीय सेवा परीक्षा 2011 की सेट D की उत्तरमाला मे प्रश्न संख्या 14, 46, 67, 74, 87, 93, 135, तथा 140 के उत्तर गलत दिये गए हैं।
1- प्रश्न संख्या 14 का सही उत्तर है यकृत, जबकि उत्तरमाला मे दिया गया है गुर्दा।
2- प्रश्न संख्या 46 मे आर्चियोलोजिकल सर्वे आफ इंडिया को कोलकाता से सुमेलित माना गया है जबकि इसका सही सुमेल दिल्ली है, साथ ही विकल्प D भी गलत है अतः इस प्रश्न पर बोनस मिलना चाहिए।
3- प्रश्न संख्या 67 का सही उत्तर है राज्य की समेकित निधि, जबकि उत्तरमाला मे दिया गया है भारत की समेकित निधि ।
4- प्रश्न संख्या 74 का सही उत्तर है मुंबई, जबकि उत्तरमाला मे दिया गया है कलकत्ता।
5- प्रश्न संख्या 87 का सही उत्तर है नीला प्रकाश, जबकि उत्तरमाला मे दिया गया है लाल प्रकाश ।
6- प्रश्न संख्या 93 का सही उत्तर है भारत सरकार के कार्य का संचालन , जबकि उत्तरमाला मे दिया गया है राज्य के नीति निदेशक तत्व ।
7- प्रश्न संख्या 135 का सही उत्तर है उपरोक्त सभी , जबकि उत्तरमाला मे दिया गया है विकल्प B ।
8- प्रश्न संख्या 140 का सही उत्तर है विकल्प B , जबकि उत्तरमाला मे दिया गया है विकल्प C ।
परीक्षार्थियों यदि चाहे तो बोर्ड के समक्ष प्रत्यावेदन प्रस्तुत कर सकते हैं।

Uttarakhand Police Recruitment 2011 vacancy details: Total no of vacancies: 2114 last date 30.9.2011


Tuesday, August 30, 2011

EXAM DATE, UTTARAKHAND GROUP-C ( SAMUH 'G') - 4 September 2011


GROUP-code 5 (पद कोड 06,28,35,36,56,57,60) exam time (11.00 बजे से 1.00)

GROUP-code 8 (पद कोड़ 09,14,46) exam time (3.00 बजे से - 5.00)

Sunday, August 21, 2011

पहाड़ की बेटी ने झुका दिया आसमां

पेरिस में भारतीय फुटबाल टीम का नेतृत्व करेगी सोनम बर्लिन में हुई फुटबाल चैम्पियनशिप में धनाभाव के कारण नहीं ले सकी थी भाग प्रदेश के खेल विभाग की आर्थिक मदद की पेशकश ठुकराई

देहरादून -(-उत्तराखंड की बेटी सोनम नेगी शुक्रवार को भारतीय महिला फुटबाल टीम का नेतृत्व करने के लिए पेरिस रवाना हो गई। रुद्रप्रयाग जिले के केदारनाथ प्रखंड के अंतर्गत ओरिंग गांव निवासी नारायण सिंह नेगी की 23 वर्षीय बेटी सोनम की इस उपलब्धि पर प्रदेश को नाज है। मध्यमवर्गीय परिवार में जन्मी सोनम इस समय नागपुर के देशमुख शारीरिक शिक्षा महाविद्यालय से एमपीएड की पढ़ाई कर रही है। रुद्रप्रयाग जिले के लिए गौरव की बात यह है कि यहां उसकी महाविद्यालय स्तर तक की पढ़ाई हुई। सोनम ने अगस्त्यमुनि के राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय से बीएससी की पढ़ाई की। उस दौरान वह छात्र राजनीति में भी सक्रिय रही। बीते 26 जून से तीन जुलाई तक बर्लिन में हुई र्वल्ड डिस्कवर वूमैन फुटबाल चैम्पियनशिप में सोनम नेगी महज इसलिए भाग नहीं ले पाई थी, क्योंकि बर्लिन जाने के लिए 75 हजार रुपये का इंतजाम नहीं हो पाया था। तब उसे टीम सदस्य के रूप में शामिल होना था। सोनम को बर्लिन जाने के लिए कुल एक लाख 75 हजार रुपये की जरूरत थी। एक लाख रुपये महाराष्ट्र के एक एनजीओ ने देने की घोषणा की थी और बाकी 75 हजार रुपये सोनम को खुद जुटाने थे लेकिन धनराशि का इंतजाम न हो पाने के कारण उसकी हसरत तब अधूरी रह गई थी। पूर्व सांसद ले.जनरल टीपीएस रावत को इसका पता चला तो उन्होंने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण माना था। बाद में उन्होंने हंस फाउंडेशन के संस्थापक संत भोले जी महाराज से सोनम नेगी की मदद करने का आग्रह किया। विगत पांच अगस्त को सतपुली में आयोजित समारोह में हंस फाउंडेशन की ओर से माता मंगला देवी ने खुद अपने हाथों से सोनम नेगी की हौसलाअफजाई करते हुए उसे एक लाख रुपये का चेक प्रदान किया। ले. जनरल टीपीएस रावत ने भी सोनम नेगी का उत्साहवर्धन करते हुए कहा था कि पहाड़ की बेटी को मायूस नहीं होने दिया जाएगा। अभी हाल में प्रदेश के खेल विभाग की ओर से सोनम नेगी को आर्थिक सहायता की पेशकश की गई लेकिन स्वाभिमानी सोनम ने महज इसलिए ठुकरा दिया दिया कि उसकी जरूरत पूरी हो गई है। विगत 11 अगस्त को राज्य सरकार द्वारा आयोजित खेल प्रतिभाओं का अभिनंदन समारोह में भी सोनम नेगी शामिल नहीं हुई। बहरहाल सोनम नेगी पेरिस रवाना हो गई है, जहां वह नौवीं वि महिला फुटबाल चैम्पियनशिप में भारतीय टीम का नेतृत्व करेगी। यह चैम्पियनशिप 21 अगस्त से शुरू हो रही है।


MPhil and PhD programmes through Distance education .अब मुक्त विवि से भी पीएचडी और एमफिल


देहरादून,- पीएचडी करने के इच्छुक राज्य के हजारों युवाओं का सपना अब उत्तराखंड मुक्त विवि व इग्नू सच करेंगे। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने स्टैंडिंग कमेटी की सिफारिशों के बाद मुक्त विश्वविद्यालयों को पीएचडी व एमफिल संचालित करने की अनुमति प्रदान कर दी है। आयोग ने यूजीसी रेगुलेशन-09 के मानकों के पालन की शर्त पर यह अनिवार्यता प्रदान की है।


इस मामले में यूजीसी की आठ जुलाई को हुई बैठक में मुहर लग गई, इस फैसले से सभी मुक्त विश्वविद्यालयों को अवगत करा दिया गया है। अब यूओयू व इग्नू इसी सत्र से पंजीकरण शुरू करने की योजना बना रहे हैं। शोध का स्तर सुधारने के उद्देश्य से यूजीसी ने मिनिमम स्टैंडर्ड फॉर अवॉर्ड ऑफ पीएचडी-एमफिल रेगुलेशन-2009 लागू किया था। इसके कारण देशभर के मुक्त विश्वविद्यालयों से की जानी वाली पीएचडी व एमफिल पर रोक लगा दी गई थी। बीते माह यूजीसी की 479वीं बैठक में स्टैंडिंग कमेटी की सिफारिश पर गौर करते हुए यूजीसी ने दोबारा मुक्त विश्वविद्यालयों को पीएचडी व एमफिल संचालित करने की अनुमति प्रदान कर दी है। यह दोनों उपाधियां मुक्त विवि दूरस्थ शिक्षण माध्यम में शुरू कर पाएंगे। हालांकि इसके लिए यूजीसी ने सख्ती से यूजीसी रेगुलेशन-09 का पालन करने की शर्त भी रखी है। शोध कोर्सेज के लिए यूजीसी रेगुलेशन में 11 बिंदु तय किए गए हैं। आयोग ने कहा है कि पीएचडी व एमफिल में प्रवेश के लिए इन बिंदुओं का सख्ती से पालन किया जाए। साथ ही आयोग ने अपने फैसले में कहा कि पीएचडी व एमफिल संचालित करने के लिए मुक्त विश्वविद्यालयों को रेगुलेशन में दर्ज जरूरी ढांचा व सुविधाएं खुद विकसित करनी होगी।
साथ ही दूरस्थ माध्यम से पीएचडी के लिए मुख्य गाइड संबंधित विवि से ही होना चाहिए, हालांकि आयोग ने जरूरत के अनुसार बाहर के विवि से को-गाइड रखने की सुविधा दी है। मुक्त विश्वविद्यालयों को पीएचडी व एमफिल संचालित करने की अनुमति मिलने से राज्य के हजारों छात्रों का शोध करने का सपना सच हो सकेगा। एचएनबी गढ़वाल विवि के केंद्रीय विवि बनने के बाद अब तक केवल एक बार पीएचडी के लिए प्रवेश हो पाए हैं, हालांकि इन पर भी अब तक सुचारू रूप से काम शुरू नहीं हुआ है। वहीं अन्य विश्वविद्यालयों में शोध की तस्वीर बहुत बेहतर नहीं है। ऐसे में उत्तराखंड मुक्त विवि व इग्नू के माध्यम से शोध करना आसान होगा व इसके लिए दोनों विश्वविद्यालयों ने तैयारी भी शुरू कर दी है। प्रयास हैं कि इसी सत्र से पंजीकरण शुरू कर दिया जाए।



..result (Clerk-cum-Cashier/ Office Assistant) in Nainital Almora Kshetriya Gramin Bank


गढ़वाली-कुमाऊंनी को निजी विधेयक पेश

देहरादून,- गढ़वाल सांसद सतपाल महाराज ने शुक्रवार को लोकसभा में गढ़वाली और कुमाऊंनी भाषाओं को संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल करने संबंधी निजी विधेयक पेश किया।
सांसद सतपाल महाराज ने कहा कि गढ़वाल क्षेत्र की प्राचीन भाषा वैदिकी थी। ऋषि-मुनियों ने इसी वैदिकी में संहिताएं लिखी हैं। करीब 500 ईसा पूर्व पणिनी ने इसका संस्कार किया और इसे व्याकरण के नियमों में बांधा। इसे वैदिक संस्कृति कहा गया। आगे चलकर वैदिक संस्कृत ने ही प्राकृत भाषा का रूप लिया। इसका प्रयोग कालिदास ने अपने नाटकों में किया। उन्होंने कहा कि द्वितीय प्राकृत भाषा के कई रूप शौरसेनी प्राकृत, पैशाची प्राकृत, महाराष्ट्री प्राकृत आदि बनीं। शौरसेनी अपभ्रंश से पश्चिमी हिंदी, राजस्थानी, गुजराती एवं मध्यवर्ती पहाड़ी समूह की भाषाएं उत्पन्न हुई। इसी समूह में गढ़वाली और कुमाऊंनी भाषाओं की उत्पत्ति हुई। इन्हीं के साथ पूर्वी पहाड़ी भाषा के रूप में नेपाली और पश्चिमी पहाड़ी के रूप में हिमाचली भाषा का जन्म हुआ। लौकिक संस्कृत पाली प्राकृत अपभ्रंश गढ़वाली के क्रम में गढ़वाली भाषा का विकास हुआ।
सांसद ने कहा कि पुराणों के अनुसाद स्वर और नाद का ज्ञान भगवान शिव के रुद्र रूप से देव ऋषि नारद को इसी देवभूमि में मिलने का वर्णन है। ढोलसागर में गुनीजन दास नाम औजी का बार-बार संबोधन होता है। जिसमें स्वर, ताल, लय, गमक का विस्तार से संवाद होता है। गुरु खेगदास का संबोधन आह्वान मंत्रोच्चारण में है। जागरों में अभीष्ट की प्राप्ति और अनिष्ट निवारण के लिए देवता नाचने की प्रथा है। जागरों में ढोल दमौं, हुड़का, ढौंर, थाली वाद्य यंत्रों का विशेष महत्व है। उन्होंने उक्त दोनों लोक भाषाओं के पौराणिक-एतिहासिक महत्व को सामने रखा।

Friday, August 19, 2011

सच हुआ वीर चंद्र सिंह गढ़वाली का सपना



कोटद्वार आखिरकार कोटद्वार क्षेत्र की जनता पिछले कई वर्षो से देखा जा रहा सपना सच हो ही गया। पेशावर कांड के नायक वीर चंद्र सिंह गढ़वाली का सपना भले

ही भरत नगर को जिला बनाने का रहा हो, लेकिन कोटद्वार को जिला घोषित कर प्रदेश सरकार ने भरतनगर के विकास की राह को आसान कर दिया है।
कोटद्वार क्षेत्र के जिला निर्माण की मांग सर्वप्रथम पेशावर कांड के नायक वीर चंद्र सिंह गढ़वाली की ओर से उठी। हालांकि, स्व.गढ़वाली कोटद्वार से लगे घाड़ क्षेत्र में स्थित भरत नगर को जिला बनाने की मांग कर रहे थे। मकसद साफ था, जिला बनने के बाद न सिर्फ भरतनगर का विकास होता, बल्कि पूरे कोटद्वार क्षेत्र में विकास की नई किरण जगती। स्व.गढ़वाली के देहावसन के बाद जनता की मांग ठंडे बस्ते में पहुंच गई। अस्सी के दशक में अधिवक्ताओं व छात्रों ने एक बार फिर अलग जिले की मांग उठानी शुरू कर दी व इस मर्तबा मांग कोटद्वार को जिला बनाने की उठी। अस्सी के दशक से उठनी शुरू हुई यह मांग वर्ष 1997-98 में उस वक्त प्रबल हो गई, जब अधिवक्ताओं के साथ ही विभिन्न संगठनों से जुड़े लोगों ने तहसील परिसर में अनशन शुरू कर दिया। 68 दिनों तक चले इस अनशन कार्यक्रम का असर यह रहा कि उत्तर प्रदेश शासन ने इस अनशन की सुध लेते हुए तत्कालीन उपजिलाधिकारी कै.सुशील कुमार को कोटद्वार जिला का ब्लू प्रिंट तैयार करे के निर्देश दे दिए। शासन स्तर से जिले की घोषणा होती, इससे पूर्व ही उत्तराखंड राज्य का गठन हो गया।
राज्य गठन के बाद भी जिला निर्माण को लेकर आंदोलन जारी रहा व अधिवक्ताओं सहित विभिन्न संगठनों ने यहां तहसील परिसर में 56 दिनों का धरना दिया। तत्कालीन मुख्यमंत्री नित्यानंद स्वामी से मिले आश्वासन के बाद आंदोलन समाप्त हो गया। वर्ष 2004 में छात्रों, अधिवक्ताओं सहित विभिन्न संगठनों ने अनशन शुरू कर दिया। इसके बाद भी जिला निर्माण को लेकर लगातार जुलूस-प्रदर्शन, रैलियां आयोजित होती रही। पिछले करीब छह माह से अधिवक्ता भी जिला निर्माण की मांग को लेकर प्रत्येक शनिवार न्यायिक कार्यो से विरत रह रहे थे। आखिर जनप्रयास रंग लाए व प्रदेश के मुख्यमंत्री डा.रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने कोटद्वार को नया जिला बनाने की घोषणा कर दी।

HNB BED ENTRENCE DATE 28 AUGUST .

मौसम की खराबी और रास्ते बंद होने के कारण HNB UNIVERSITY BED ENTRENCE सह्रश्वताह भर के
लिए स्थगित कर दी गई है। अब 21 अगस्त की बजाय यह परीक्षा 28 अगस्त को होगी।

3600 पदों पर भर्ती जल्द


देहरादून, - समूह-ग के रिक्त पदों पर नियुक्तियों का इंतजार कर रहे बेरोजगार युवाओं के लिए खुशखबरी। 2300 पदों के लिए आवेदन कर चुके युवाओं को तकरीबन डेढ़ माह में 3600 पदों पर भाग्य आजमाने का मौका मिलेगा। चुनाव आचार संहिता लागू होने से पहले भर्ती प्रक्रिया शुरू होगी। सरकार के सख्त निर्देशों के चलते प्राविधिक शिक्षा परिषद इसकी तैयारी में जुटा है। तमाम सरकारी महकमों में समूह-ग के रिक्त पदों पर भर्ती के लिए खुद सरकार को जमकर पसीना बहाना पड़ रहा है। मुख्य सचिव स्तर पर बार-बार मानीटरिंग के बाद नियमावली और कायदे-कानूनों का हवाला देते हुए भर्ती से हाथ खड़े करने वाले महकमों को आखिरकार हथियार डालने पड़े हैं। नतीजतन करीब 70 महकमे 5900 पदों पर भर्ती कराने को प्राविधिक शिक्षा परिषद में दस्तक दे चुके हैं। फिलहाल इनमें 2021 पदों के लिए आवेदन मंगाए जा चुके हैं, जबकि उत्तराखंड अधीनस्थ सिविल न्यायालय लिपिक संवर्गीय सेवा के रिक्त 279 पदों पर भर्ती को परीक्षा 28 अगस्त को होगी। 23 महकमों में रिक्त 2021 पदों की भर्ती परीक्षा के लिए परिषद को मशक्कत करनी पड़ रही है। दरअसल, उक्त पदों के लिए शैक्षिक योग्यता अलग होने के कारण विभागवार परीक्षा आयोजित की जाएगी। परीक्षार्थियों को 27 पेपर से जूझना पड़ेगा। इन पेपरों में तकरीबन 50 फीसदी सवाल तय शैक्षिक योग्यता के दायरे में पूछे जाने हैं। इन पेपरों के मुताबिक अलग-अलग परीक्षा तिथियां तय होंगी। इस पूरे तामझाम को देखते हुए परीक्षाएं अगले माह सितंबर के पहले हफ्ते से शुरू होकर तकरीबन नवंबर माह तक चलेंगी।
परिषद की रणनीति यह है कि बीच की इस अवधि में ही शेष 3600 रिक्त पदों की भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाए। इस कड़ी में लिपिक और लेखाकार संवर्ग के 1315 पदों पर भर्ती आवेदन जल्द मांगे जाएंगे, जबकि इसके बाद वाहन चालकों के 215 पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू होगी।
इसके बाद शेष दो हजार पदों पर नियुक्तियां होंगी। परिषद सचिव डा. मुकेश पांडेय के मुताबिक चुनाव आचार संहिता से पहले समूह-ग के उपलब्ध कराए गए सभी रिक्त पदों पर भर्ती प्रक्रिया प्रारंभ की जाएगी। इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है।


यूटीईटी अब २७ को


रामनगर - मौसम की
खराबी और रास्ते बंद होने के
कारण उतराखंड अध्यापक पात्रता
परीक्षा (यूटीईटी) सह्रश्वताह भर के
लिए स्थगित कर दी गई है। अब
२१ अगस्त की बजाय यह परीक्षा
२७ अगस्त को होगी।

उत्तराखंड वानिकी एवं औद्यानिकी विश्र्वविद्यालय भरसार के पहले वीसी मैथ्यू (Uttarakhand's first VC forestry and horticulture Brsar University Matthew)

pahar1- उत्तराखंड वानिकी एवं औद्यानिकी विश्र्वविद्यालय भरसार, पौड़ी के पहले कुलपति प्रो. (डा.) मैथ्यू प्रसाद नियुक्त किए गए हैं। औद्यानिकी विशेषज्ञ डा. प्रसाद मूल रूप से दून (उत्तराखंड) के निवासी हैं।
कुलपति पद पर उनकी तैनाती तीन वर्ष के लिए की गई है। उन्होंने प्रदेश में वन उत्पादकता बढ़ाने और औद्यानिकी में रोजगार की नई संभावनाएं पैदा करने को अपनी शीर्ष प्राथमिकताओं में शुमार किया। प्रो. प्रसाद ने औद्यानिकी विशेषज्ञ के तौर विभिन्न राष्ट्रीय संस्थाओं और व‌र्ल्ड बैंक प्रोजेक्ट समेत विभिन्न संस्थानों में 30 वर्ष तक अपनी सेवाएं दी हैं। उन्होंने आइआइटी खड़गपुर से फूड प्रोसेसिंग में पोस्ट ग्रेजुएट और डाक्टरेट की डिग्री लीं और इलाहाबाद विश्र्वविद्यालय से एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन किया। दून में जन्मे प्रो. प्रसाद को उनके रिसर्च कार्यो के लिए भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आइसीएआर) ने जवाहर लाल नेहरू पुरस्कार से सम्मानित किया। उन्होंने इस्राइल में वोलकानी रिसर्च इंस्टीट्यूट से पोस्ट हार्वेस्ट टेक्नोलाजी में एडवांस ट्रेनिंग ली। 14 साल से अधिक समय तक उन्होंने जम्मू-कश्मीर कृषि विवि में औद्यानिकी पर कार्य किया।
वह ग्रीन बोनस के परिप्रेक्ष्य में वन उत्पादों की प्रोसेसिंग और मूल्य वृद्धि के गहन अध्येता रहे। प्रदेश सरकार ने डा मैथ्यू को भरसार विवि के कुलपति की कमान सौंपी है। गौरतलब है कि सरकार की ओर से विवि में कुलपति के साथ ही फाइनेंस कंट्रोलर और रजिस्ट्रार के पद सृजित किए गए हैं।


Wednesday, August 17, 2011

सैनिकों और पूर्व सैनिकों पर सरकार एक बार फिर मेहरबान


pahar1- सूबे के सैनिकों और पूर्व सैनिकों की बल्ले-बल्ले हो गई है। वे लग्जरी कारें भी खरीद सकेंगे। सरकार ने संशोधित आदेश जारी कर 12 लाख की राशि तक फोर व्हीलर खरीदने पर वैट माफ किया है। इससे पहले यह सीमा पांच लाख रुपये थी। टू व्हीलर के लिए भी यह सीमा 70 हजार से बढ़ाकर एक लाख रुपये की गई है।
सूबे के सैनिकों और पूर्व सैनिकों पर सरकार एक बार फिर मेहरबान हुई है। उन्हें कैंटीन से अब ज्यादा फोर व्हीलर और टू व्हीलर पर 13.5 फीसदी वैट से राहत रहेगी। साथ में वाहन खरीद सीमा भी बढ़ाई गई है। इससे सैनिक और पूर्व सैनिक अब एयर कंडीशन लग्जरी कारें खरीद सकेंगे। इसके लिए संशोधित शासनादेश जारी किया गया है। इसके मुताबिक अब खरीद सीमा पांच लाख से बढ़ाकर 12 लाख की गई है। कैंटीन से उक्त राशि तक फोर व्हीलर खरीद पर अब 13.5 फीसदी वैट नहीं लगेगा। वाहनों की संख्या भी बढ़ाई गई है। सालभर में 150 फोर व्हीलर खरीदे जा सकेंगे।
टू-व्हीलर खरीदने की मंशा रखने वालों को भी बड़ी राहत दी गई है। अब टू व्हीलर खरीदने की सीमा भी 70 हजार रुपये से बढ़ाकर एक लाख रुपये की गई है। इस राशि तक 13.5 फीसदी वैट माफ रहेगा। टू व्हीलर भी सालभर में अब 350 के बजाए 750 तक खरीदे जा सकेंगे। यही नहीं एक अन्य शर्त पर भी सरकार ने ढील दी है। वाहन खरीदने के बाद दस साल तक उसकी बिक्री पर प्रतिबंध में ढील देते हुए यह सीमा घटाकर दो साल की गई है।


Tuesday, August 16, 2011

किसानों के करीब अपणु बाजार



देहरादून,-आंध्र प्रदेश का रायतू बाजार हो या कर्नाटक का रैयथात सैंथागलू, तमिलनाडु का उलूवार संथाई हो अथवा पंजाब की अपनी मंडी, मंशा सबकी यही है कि छोटी जोत वाले किसान लाभान्वित हों। साथ ही उपभोक्ताओं को उच्चगुणवत्ता वाले उत्पाद मिल सकें। चारों राज्यों में सफल इस कांसेप्ट को अब उत्तराखंड में भी अपनाया जा रहा है।
नाम दिया गया है अपणु बाजार। इसके जरिए किसान सीधे उपभोक्ताओं तक उत्पाद पहंुचा सकेंगे। सरकार का भी इसे अनुमोदन मिल गया है और इसकी शुरुआत होगी देहरादून जिले से।
लघु एवं सीमांत किसानों को उत्पाद का उचित लाभ न मिल पाना उत्तराखंड में भी एक बड़ी समस्या है। वजह, विपणन की व्यवस्था का अभाव। ऐसे में बडे़ किसान तो मंडियों तक उत्पाद ले जाते हैं, लेकिन छोटी जोत वाले कृषकों के लिए यह संभव नहीं हो पाता और बिचौलियों के हाथों औने-पौने दामों पर उत्पाद बेचना मजबूरी बन जाती है। कई मर्तबा तो उत्पाद खेतों में ही सड़ जाते हैं। इसको देखते हुए हाल ही में शासन ने एक दल को अध्ययन के लिए कर्नाटक व आंध्र प्रदेश भेजा। वहां से कांसेप्ट मिला तो अब इसे कुछ संशोधनों के साथ उत्तराखंड में भी लागू करने की योजना बनाई गई। अपणु बाजार को धरातल पर उतारने को सरकार ने हरी झंडी दे दी है। इसके तहत गांवों के नजदीकी कस्बों व शहरों में टिन शेड बनाकर बैठने को चबूतरे बनाए जाएंगे, जिनका किसानों के स्वयं सहायता समूहों को पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर आवंटन होगा। इससे विपणन की दिक्कत तो दूर होगी ही, लोगों को ताजी सब्जियां समेत अन्य उच्च गुणवत्तायुक्त उत्पाद वाजिब दामों पर मिल सकेंगे।