Friday, 1 May 2009

केदारनाथ के कपाट खुले

आज खुलेंगे बदरीनाथ धाम के कपाट रुद्रप्रयाग, चमोली : प्रसिद्ध केदारनाथ के कपाट आज सुबह 6.15 बजे वैदिक मंत्रोचारण के साथ दर्शनार्थियों के लिए खोल दिए गए हैं। दूसरी तरफ देश के चारधामों में से एक धाम बदरीनाथ मंदिर के कपाट शुक्रवार को श्रद्घालुओं के दर्शन के लिए खुल जाएंगे। छह माह शीतकालीन गद्दीस्थल के बाद गुरुवार को गर्भ गृह की पूजा के बाद बाबा केदारनाथ के कपाट भक्तों के दर्शनार्थ खोल दिए गए हैं। ग्रीष्मकाल में छह माह केदारपुरी में ही बाबा केदारनाथ की पूजा अर्चना की जाएगी। कपाट खुलते ही भोले के प्रथम दर्शनों के लिए देश-विदेशी श्रद्धालुओं का तांता लग गया है। इस अवसर पर सैकड़ों तीर्थ यात्रियों ने भोले बाबा के दर्शन कर पुष्प, चंदन, अक्ष, तिल, दूध चढ़ाकर अपने सुख शांति के लिए मन्नतें मांगी। बदरीनाथ: भारतवर्ष में हिंदुओं के चारधामों में हिमालय की पर्वत श्रंृखला के बीच 10500 की ऊंचाई पर स्थित बदरीनाथ धाम के कपाट शुक्रवार को सुबह नौ बजकर दस मिनट पर वैदिक मंत्रोचारण के साथ श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खुलेंगे। प्रथम दिन अखंड ज्योति के दर्शन कर श्रद्धालु पुण्य लाभ अर्जित करेंगे। इस अवसर पर देश के विभिन्न राज्यों से आए श्रद्धालु मंदिर परिसर सहित नर नारायण पर्वत को जोडऩे वाले पुल तक विभिन्न स्थानों पर फूलों से आकर्षक रूप से सजा रहे हैं।

No comments:

Post a comment