Wednesday, 18 March 2009

कुसुम हत्याकांड: सिविल पुलिस को सौंपे प्रकरण

Mar 18, नई टिहरी (टिहरी गढ़वाल)। जाखणीधार प्रंखंड के पुनाडू गांव में युवती की हत्या के मामले में ग्रामीणों ने जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक से मिलकर मामले को राजस्व पुलिस से सिविल पुलिस को स्थानांतरित करने की मांग की। गौरतलब है कि ग्यारह मार्च को जाखणीधार प्रखंड के पुनाडू गांव में शादी से इंकार करने पर ज्यौतर लाल की 20 वर्षीय पुत्री कुसुम की धारदार हथियार से हत्या कर दी थी। हत्यारोपी कोटी गांव निवासी दिनेश लाल ने स्वयं को भी घायल कर दिया था। मामले में राजस्व पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। फिलहाल आरोपी दून चिकित्सालय में भर्ती है। मृतका के परिजनों व ग्रामीणों का कहना है कि आरोपी पर नजर रखने के लिए मात्र एक होमगार्ड तैनात किया गया है। उन्होंने आशंका है कि आरोपी वहां से फरार हो सकता है। इस मामले को लेकर ग्रामीणों के एक प्रतिनिधिमंडल ने दुग्ध संघ अध्यक्ष धन सिंह नेगी के नेतृत्व में जिलाधिकारी सौजन्या व पुलिस अधीक्षक से मुलाकात की। उन्होंने मामला राजस्व पुलिस से नागरिक पुलिस के हवाले किए जाने की मांग की। इस पर प्रतिनधिमंडल को पुलिस कप्तान ने आश्वासन दिया कि सिविल पुलिस इस काम में राजस्व पुलिस का पूरा सहयोग करेगी। प्रतिनधिमंडल में चंदन सिंह, फूल दास, रणवीर सिंह, कुंदन दास, मकान लाल, राकेश लाल, रामदास, विजय दास आदि शामिल

No comments:

Post a comment